उत्तर प्रदेश में एक और दलित युवती के साथ गैंगरेप, कमर और पैर भी तोडे, हुई मौत

ABHISHEK SHARMA

0 150

उत्तर प्रदेश के हाथरस में दलित युवती के साथ हुई हैवानियत को लेकर जहां पूरे देश में आक्रोश है, वहीं इसी प्रदेश के बलरामपुर जिले में एक 22 वर्षीय छात्रा के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। पीड़िता की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई।

यह मामला बलरामपुर के कोतवाली गैंसड़ी क्षेत्र का है, जहां अब इसके बाद पूरा इलाका छावनी में तब्दील हो चुका है।बताया जा रहा है कि दरिंदों ने छात्रा की कमर और पैर तोड़ दिए थे।

गैंगरेप पीड़िता की मां का कहना है कि उसकी 22 वर्षीय पुत्री मंगलवार सुबह 10 बजे विमला विक्रम कॉलेज में बीकॉम प्रथम वर्ष में दाखिला कराने गई थी। घर वापसी में देर होने पर कई बार फोन मिलाया लेकिन बात नहीं हो सकी। रात करीब 8 बजे बेटी विक्षिप्त हालत में घर पहुंची।

उसे एक रिक्शे वाला घर तक छोड़ गया था। छात्रा ने अपनी मां से पेट दर्द होने की बात बताई थी कि उसके पेट में तेज जलन हो रही है, वह अधिक बात करने की स्थिति में नहीं थी। उसके हाथ में वीगो लगा था। ऐसा लग रहा था कि वह कहीं से इलाज करवा कर आई हो।

इसके बाद उसे एक प्राइवेट डॉक्टर के पास ले जाया गया। हालत गंभीर देख कर चिकित्सक ने छात्रा को तुलसीपुर सीएचसी ले जाने की सलाह दी। वहां ले जाते समय रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।

मां का आरोप है कि उसकी बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ है। उसे अगवा कर कई लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया है। पोल खुलने के डर से दरिंदों ने छात्रा की कमर और दोनों टांगो को तोड़ कर और जहर देकर रिक्शे से घर भेज दिया।

हालांकि बलरामपुर पुलिस ने इन आरोपों से इनकार किया है। पुलिस का कहना है कि 3 लोगों को कोतवाली लाकर पूछताछ की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद सही बात का पता चल सकेगा। छात्रा के भाई ने कोतवाली में तहरीर दी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.