नोएडा : सेक्टर 9 में नहीं बना शौचालय , लोग खुले में करते है शौच , व्यापारी कई सालों से देते आ रहे है शिकायत

ROHIT SHARMA

0 115

नोएडा :– दुनिया के नक्शे पर अपनी धाक जमा चुके नोएडा के बारे में अगर यह कहा जाए कि यहां लोगों को मूलभूत सुविधाएं भी अब तक नहीं मिली हैं, तो इसमें हैरान होने की जरूरत नहीं है। शहर में सार्वजनिक स्थानों पर सुलभ शौचालय तक की सुविधा भी लोगों को नहीं मिल पाती है। इस कारण लोगों को घरों के बाहर विशेष रूप से मार्किट आदि जाने के दौरान बड़ी परेशानी होती है। यह स्थिति महिलाओं के लिए खासी कष्टप्रद होती है। ऐसा भी नहीं है कि शहर में कहीं शौचालय नहीं है। शौचालय तो हैं, लेकिन इनमें से काफी बंद पड़े हैं, तो कई ऐसी जगह हैं जहां इनका उपयोग नहीं किया जा सकता।

 

औद्योगिक नगरी के रूप में बसाए गए नोएडा के लिए इससे बड़ी हैरत की बात क्या होगी। शहर की प्रमुख मार्केट में भी शौचालयों की व्यवस्था न होने के कारण लोगों को परेशानी होती है। कुछ जगह तो दुकानदारों ने अपनी और ग्राहकों की सुविधा के लिए अस्थाई तौर पर नाले और नालियों के ऊपर शौचालय का निर्माण कर लिया है।

इस कार्य में उन्हें किसी भी प्रकार से प्राधिकरण का कोई सहयोग नहीं मिला है। सुलभ शौचालयों की पर्याप्त व्यवस्था न होने के कारण मजदूरी व रिक्शा चलाने वाले लोग खुले में शौच करने को मजबूर होते हैं। इससे जहां लोगों को परेशानी होती है, वहीं शहर में गंदगी भी फैलती है। शौचालय न मिलने के कारण देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान की भी धज्जियाँ उड़ती दिखाई पड़ रही हैं।

आपको बता दे कि सेक्टर 9 में शहर की सबसे पुरानी बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन मैटेरियल मार्केट है, यहां पर मूलभूत सुविधाओं की भारी कमी है।  आए दिन लोगों को टॉयलेट्स, पार्किंग, जाम जैसी  समस्याओं का सामना करना पड़ता है | इन समस्याओं के समाधान के लिए बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन मार्केट के तमाम व्यापारी नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों के समक्ष कई बार ज्ञापन , अर्जी, गुजारिश, प्रार्थना ,निवेदन कर चुके है, लेकिन आज तक नोएडा प्राधिकरण ने इस समस्या का कभी समाधान नहीं किया है।

 

वहीं, इस मामले में नोएडा सेक्टर 9 मार्किट एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव गोयल का कहना है कि सेक्टर 9 में मूलभूत सुविधाओं की भारी कमी है। आए दिन लोगों को टॉयलेट्स , पार्किंग व जाम जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। मूलभूत सुविधाओं की भारी कमी है।  साथ ही उन्होंने कहा कि अगर किसी भी व्यक्ति को शौच के लिए जाना होता है तो करीब एक किलोमीटर दूर जाना पड़ेगा | पुरे सेक्टर 9 में एक भी शौचालय नहीं बना हुआ है , जिसके कारण यहाँ के कर्मचारी और लोग पार्कों में शौच करते है।

वही दूसरी तरफ पार्कों में शौच करने की वजह से आसपास में गंदगी फैली हुई है , साथ ही इस समस्या के बारे में नोएडा प्राधिकरण के अधिकारी भी अवगत है , फिर भी कई साल हो गए , लेकिन आज तक शौचलय नहीं बना।

खासबात यह है की नोएडा प्राधिकरण ने खुले में शौच एवं प्लास्टिक प्रयोग करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए काफी लोगों का चालान काटा है। तीन अक्टूबर से अब तक खुले में शौच करने वाले तथा पॉलीथीन के इस्तेमाल पर लाखों रुपये का चालान काटा जा चुका है, लेकिन प्राधिकरण खुद लोगों को सुविधा मुहैया नहीं करा रहा है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.