भारत और पनामा के बीच निवेश एवं व्यापार पर ज़ोर , मिलेगा युवाओं को रोजगार 

ROHIT SHARMA

0 99

दिल्ली में आज पनामा प्रतिनिधिमंडल को आज वाणिज्य , उद्योग मंत्रालय और इंडो-लैटिन अमेरिका चैंबर ऑफ कॉमर्स से अवगत कराया गया है | आपको बता दे की पनामा प्रतिनिधिमंडल दोनों देशों के सशक्तीकरण के लिए व्यापार और निवेश के लिए भारत का दौरा कर रहा है। प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व इंडो लैटिन अमेरिका चैंबर ऑफ कॉमर्स के उपाध्यक्ष प्रभाकर शरण को अपनी मातृभूमि के समर्थन में करना है।

समारोह का उद्घाटन  पनामा दूतावास  रिचर्ड किल्ब्रोन, राष्ट्रीय निवेश संवर्धन  वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय, पनामा गणराज्य  जोस लबेंज, फिल्ब आयुक्त, भारत सरकार के मंत्री हरदीप सिंह द्वारा किया गया।



मंत्रालय के वाणिज्य और उद्योग और इंडो लैटिन अमेरिका चैंबर ऑफ कॉमर्स, पनामा गणराज्य ने 90-95 भारतीय निवेशकों, उद्योगपतियों, मुख्य कार्यकारी अधिकारियों  , संस्थापकों  , सह-संस्थापक  , अध्यक्ष , व्यापार निदेशकों  , व्यापार प्रमुखों और प्रमुख निर्णय निर्माताओं के साथ हस्तक्षेप किया।

पनामा और भारत के बीच व्यापार के अवसरों और संभावनाओं के दोहन के लिए “बिजनेस मीटअप और प्रेस इंटरेक्शन” पर क्षेत्रों में चर्चा हुई । दोनों देशों के लिए पनामा डेलिगेशन के साथ 10-15 मीडिया प्रतिनिधि ने बातचीत की । प्रतिनिधिमंडल ने भारत और पनामा के बीच व्यापार, निवेश और पारस्परिक व्यापार संवर्धन के बारे में चर्चा करने के लिए सभी औद्योगिक क्षेत्रों के लोगों के साथ बातचीत की।

खासबात यह है की प्रभाकर शरण, उपाध्यक्ष, इंडो लैटिन अमेरिकन चैंबर ऑफ कॉमर्स, उद्यमी, निवेशक और शिक्षा, रिपब्लिक ऑफ पनामा, कॉस्ट रिका ,  प्रशांत कुमार पंकज, ऑर्गनाइजिंग अध्यक्ष, बिहार प्रवासी समवन, जो भारत के लिए इस अवसर को लाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। प्रभाकर शरण ने पनामा और भारत में व्यापार, निवेश के अवसरों की खोज की। उन्होंने सभी उद्योगपति और निवेश को पनामा आने और आपसी व्यापार और व्यापार को बढ़ावा देने के अवसरों का पता लगाने की अपील की।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.