ग्रेटर नोएडा: अभिभावक ने लगाया स्कूल में बच्चें के साथ यौन उत्पीड़न का आरोप, पुलिस के लचर रवैये पर भी उठाए सवाल

Abhishek Sharma / Photo & Video By Baidyanath Halder

289

Greater Noida (12/11/18) : नोयडा- ग्रेटर नोएडा के नामी स्कूलों में मासूम बच्चों के संग शर्मशार घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही। ग्रेटर नोएडा के दो स्कूलों और नोयडा के एक स्कूल के बाद अब फिर ग्रेटर नोएडा के एक नामी स्कूल से दुबारा चौंकाने वाली घटना सामने आई है।

सेक्टर स्वर्णनगरी स्थित जीडी गोयंका स्कूल के बाथरूम में 8 वीं क्लास के बच्चे के साथ यौन उत्पीड़न का मामला संज्ञान में आया है। बताई गई जानकारी के अनुसार ग्रेटर नोएडा के सेक्टर जीटा-1 स्थित एक अन्य स्कूल में पढ़ने वाला एक 13 वर्षीय छात्र, 31 अक्टूबर को स्वर्णनगरी स्थित जी डी गोयंका स्कूल में किसी प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए गया था जहाँ पर स्कूल के 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले दो छात्रों ने बच्चे के साथ बाथरूम में बंद करके उसके साथ गलत हरकत की।

मामले की शिकायत बच्चे ने शाम को घर पहुंचकर अपने पिता को बताई जिसके बाद बच्चे के पिता ने अगले दिन स्कूल में जाकर प्रिंसिपल से मामले की शिकायत की। प्रिन्सिपल ने तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपित दोनों छात्रों को स्कूल से ससपेंड कर दिया। बच्चे के पिता ने बताया कि 3 नवंबर को उन्होंने कासना थाने में जाकर मामले की शिकायत दर्ज कराई, लेकिन इसपर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

उन्होंने इसके बाद एसएसपी अजयपाल शर्मा को भी लिखित शिकायत की। बच्चे के पिता ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। इस मामले में न तो कासना पुलिस ने कोई कार्रवाई की और न ही एसएसपी ने मामले का संज्ञान लिया है।

उनका कहना है कि आरोपित बच्चों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए जिससे कि उनके बच्चे को न्याय मिल सके और स्कूलों में हो रही इस प्रकार की घटनाओं पर रोक लग सके। उन्होंने कहा कि आज काफी समय से स्कूलों में इस प्रकार की घटनाएं सामने आ रही है, बच्चे स्कूल में पढ़ने जाते हैं। स्कूल में बच्चे की सुरक्षा की जिम्मेदारी स्कूल प्रबंधन की होती है। जिसके बाद भी बच्चे स्कूल में सुरक्षित नहीं है। उन्होंने स्कूल से सीसीटीवी फुटेज की मांग की जिसके बाद स्कूल प्रबंधन ने उन्हें वीडियो फुटेज दिखाई लेकिन उन्हें सौंपने से इनकार कर दिया।

उन्होंने कंप्यूटर में चल रही वीडियो को चुपके से अपने फ़ोन में रिकॉर्ड कर लिया। जिसमे 2 लड़के पीड़ित छात्र को पकड़कर बाथरूम में ले जाते दिखाई पड़ रहे है। गेट के पास गार्ड और सफाईकर्मी भी मौजूद थे। उन्होंने भी दोनों छात्रों को रोकने की कोई कोशिश नहीं की।

वहीं स्कूल प्रबंधन से इस मामले की जानकारी लेने के लिए जब संपर्क साधा गया तो उन्होंने फ़ोन नहीं उठाया।

जबकि ऐच्छर थाने के एसआई संदीप कुमार का कहना है कि पीड़ित के परिजनों ने 3 नवंबर को शिकायत दर्ज कराई थी जिसके बाद त्योहारों के चलते स्कूल की छुट्टियां शुरू गई थी। आज वह स्कूल पहुंचे तो वहाँ पर प्रिंसिपल नहीं मिली। मामले में स्कूल प्रबंधन से कल पूछताछ की जाएगी। जिसके बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि असल में घटना क्या थी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.