- Advertisement -

सिरसा एंट्री प्वाइंट को मनमोहक बनाने के लिए प्राधिकरण ने उठाया कदम, लगाए बोगेनविलिया के फूल और अशोक के वृक्ष

0 224

ग्रेटर नोएडा: ईस्टर्न  पेरिफेरल एक्सपरेसवे से सिरसा के रास्ते ग्रेटर नोएडा में प्रवेश करने पर आपका स्वागत अब पुणे के गुलाबी वोगेनवेलिया के फूल और हरे-भरे अशोक के वृक्ष करेंगे। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने बृहस्पतिवार को वोगेनवेलिया व अशोक के पौधे लगाकर इसकी शुरुआत कर दी है।

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से ग्रेटर नोएडा में प्रवेश करने के लिए सिरसा के पास एंट्री प्वाइंट बना हुआ है। यहां से ग्रेटर नोएडा के निवासी ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर  जा सकते हैं और ईस्टन पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से यात्री ग्रेटर नोएडा में आ सकते हैं। रोजाना हजारों की संख्या में लोग इस जगह से गुजरते हैं। इसे देखते हुए प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी नरेंद्र भूषण के निर्देश पर उद्यान विभाग ने इसे सुंदर व मनमोहक दृष्य बनाने की योजना पर काम शुरू कर दिया है।

बृहस्पतिवार को सीईओ नरेंद्र भूषण  व महाप्रबंधक एके अरोड़ा ने पौधे लगाकर इसकी शुरुआत की। ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से उतरने पर बायीं ओर वोगेनवेलिया और अशोक के पौधे लगा दिए गए हैं। यहां पर सड़क को चौड़ा करने का काम पहले से चल रहा है। सुंदर फुटपाथ भी बनाए जा रहे हैं। अब इसे हरा-भरा बनाने की मुहिम शुरू की गई है। प्राधिकरण इस जगह पर पुणे की ग्लैबरा प्रजाति के वोगेनवेलिया के 350 व अशोक के 250  पौधे लगवा रहा है। सिरसा से ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर जाने वाले मार्ग पर भी ये पौधे शीघ्र लगा दिए जाएंगे। इस दौरान सीईओ नरेंद्र भूषण ने बताया कि वोगेनवेलिया पुष्प व अशोक के वृक्षों के अलावा ग्रेटर नोएडा में प्रवेश करने का साइन बोर्ड भी लगाया जाएगा। इस काम को तीन माह में पूरा करने का लक्ष्य है। इस दौरान वरिष्ठ प्रबंधक कपिलदेव सिंह व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

ट्रकर्स प्वाइंट को और सुंदर बनाने की पहल 
ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से सिरसा के पास ट्रकर्स प्वाइंट बने हैं। सिरसा रैंप से उतरकर ट्रक चालक इसी जगह पर रुककर विश्राम करते हैं। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण हरियाणा के मोर्थल की तर्ज पर यहां ट्रकर्स प्वाइंट विकसित करने की योजना है। ट्रक चालकों के लिए रेस्टोरेंट बनवाने की योजना पर काम हो रहा है। इसके पास में खाली जमीन पर पार्क भी बनाया जाएगा। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने उद्यान विभाग को इसके निर्देश दे दिए हैं। इससे एक तो प्रवेश द्वार की खूबसूरती और बढ़ जाएगी। साथ ही लंबा संफर तय करके सिरसा के पास ट्रकर्स प्वाइंट पर रुकने और विश्राम करने की सहूलियत होगी। यहां की सड़कों को भी दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने इसे 01 जनवरी 2022 से पहले पूरा करने का लक्ष्य दिया है।

कोरोना में श्रमिकों को मिला रोजगार, पार्क भी तैयार
कोराना काल लॉकडाउन के दौरान कई लोग बेरोजगार होने लगे। उनकी परेशानी को देखते हुए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने उनको रोजगार देने की पहल की। लेबर चौक पर रोजगार की आस में आने वाले श्रमिकों को रोजगार दिया है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के दफ्तर के बगल में ही करीब 1.8 हेक्टेयर जमीन ग्रीन एरिया के नाम पर छोड़ी गई थी। इन सैकड़ों श्रमिकों को रोजगार देते हुए इस जमीन को समतल कर घास लगा दी गई है। यह काम पूरा हो चुका है। इससे यह खाली प्लॉट हरा-भरा हो गया है। इसमें बैठने के लिए लकड़ी के बेंच भी लगाए जाएंगे। प्राधिकरण के दफ्तर के पास हरियाली और बढ़ गई है। इससे आसपास की खूबसूरती भी और बढ़ गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.