कॉरपोरेट जगत में कार्यरत एक लाख भारतीयों को मांसपेशियों की सेहत के प्रति जागरूक करने के लिए डेन ऑन इंडिया चलाएगा मुहिम

Abhishek Sharma / Rahul Kumar Jha

74

डैनोन इंडिया आरोग्य वर्ल्ड इंडिया ट्रस्ट और इन बॉडी मांसपेशियों के स्वास्थ्य को लेकर जागरूकता बढ़ाने के मिशन पर है। वे इसके लिए प्रोटीन से भरपूर खानपान और सक्रिय जीवन शैली की दिशा में नजरिये और आदत व्यवहार में सकारात्मक बदलाव लाने की कोशिशों में जुटे हुए हैं। प्रोटीन सप्ताह 2019 की पहल के जरिए डैनोन इंडिया और उनके साझेदारों का उद्देश्य विशेषज्ञों द्वारा न्यूट्रिशन पर कार्यशाला और भारत में विभिन्न कॉरपोरेट्स में मांसपेशियों की सेहत के मुफ्त आकलन की सुविधा देकर एक लाख कामकाजी भारतीयों को जागरूक करना है।


इन बॉडी और आईपीएसओएस द्वारा 2018 में किए गए एक अध्ययन का कहना है कि 70 परसेंट से ज्यादा कामकाजी भारतीयों की मांसपेशियों का स्वास्थ्य खराब है। जाहिर है कि कामकाजी आबादी के बीच स्वस्थ मांसपेशियों के लिए प्रोटीन की भूमिका के बारे में जागरूकता बढ़ाने की तत्काल जरूरत थी। स्वास्थ्य स्वस्थ मांसपेशियों बीमारियों की रोकथाम में भी अहम भूमिका निभाती हैं और एसोचैम 2018 की एक रिपोर्ट के अनुसार खराब सेहत के चलते कार्य से होने वाली अनुपस्थिति में महज एक परसेंट की कमी लाकर भारत का अनौपचारिक सेक्टर हर साल 20 अरब अमेरिकी डॉलर तक की बचत कर सकता है।

डैनोन इंडिया के प्रबंधक निदेशक हिमांशु बक्शी ने कहा कि वयस्कों में पोषण एक उपेक्षित क्षेत्र रहा है और इस आबादी को उचित पोषण की आवश्यकता के बारे में संवेदनशील बनाने के लिए सीमित पहले ही हुई है। अपने ब्रांड प्रोटीनेक्स के जरिए डेनॉन प्रोटीन और मांसपेशियों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में इसकी भूमिका को लेकर संवाद और चर्चाओं में जुटा है। वह सक्रिय जीवन शैली को भी बढ़ावा दे रहा है ताकि लोग जीवन के अहम मौकों से नए चुके प्रोटीन सप्ताह जैसे इनीशिएटिव्स और आरोग्य तथा इन बॉडी के साथ हमारी साझेदारी को और पूरे इंडिया के मध्य मांसपेशियों के स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ाने में मदद करेगी। जो निष्क्रिय जीवनशैली और असंतुलित खान-पान के चलते मांसपेशियों के खराब स्वास्थ्य के सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं। फूड के माध्यम से सेहत की सौगात के मिशन पर डैनोन स्थानीय पोषण संबंधी जरूरतों की पूर्ति के लिए प्रतिबद्ध है जिसमें प्रोटीन भी शामिल है।

प्रेस वार्ता के दौरान आरोग्य वर्ल्ड की कंट्री हेड सुमित्रा राव ने बताया कि आज के भारत में कर्मचारियों का प्रोटीन उपयोग कम और असंतुलित है। यह न सिर्फ उनके पेशेवर जीवन बल्कि निजी जीवन को भी प्रभावित कर रहा है। आरोग्य वर्ल्ड इंडिया ट्रस्ट, डैनोन की प्रोटीन सप्ताह पहल का हिस्सा बनकर बेहद खुश हैं। जिसका उद्देश्य कॉरपोरेट भारत को उचित पोषण की आवश्यकता और दैनिक जीवन पर इसके प्रभाव के बारे में संवेदनशील बनाना है।

इस कार्यक्रम में इनबॉडी इंडिया के प्रबंध निदेशक केनेथ चा भी उपस्थित रहे। उन्होंने कहा कि प्रोटीन सप्ताह के लिए डैनोन के साथ अपने जुड़ाव को लेकर हमें प्रसन्नता है। मांसपेशियों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रोटीन के महत्व पर ध्यान केंद्रित करने वाली अनूठी पहल है। इसके जरिए प्रोटीन और खान-पान के बारे में बातचीत जिम और खेलों से आगे बढ़कर आम चर्चा का हिस्सा बनेगी। इसे हर व्यक्ति के लिए प्रासंगिक बनाया जाएगा जो एक स्वस्थ जीवन शैली पर चलना चाहता है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.