राहुल गांधी के इमरजेंसी वाले बयान पर प्रकाश जावड़ेकर का पलटवार , कहा- आरएसएस को समझने में थोड़ा समय लगेगा

Ten News Network

0 89

नई दिल्ली :– गुजरात नगरपालिका, जिला पंचायत और तालुका चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया. इस जीत पर केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि इससे यह साबित होता है कि लोगों का विश्वास बीजेपी में बढ़ रहा है, गुजरात में बीजेपी ने 31 जिला पंचायत में जीत दर्ज की है, जबकि कांग्रेस का सूपड़ा साफ हुआ है।

 

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘गुजरात में हमने 2017 का चुनाव जीता, वहां हम एक प्रकार से 38 साल से सरकार में हैं,इतने समय तक जनता का साथ मिलना और वो बढ़ते जाना, ये राजनीति में एक अद्भुत करिश्मा है, 81 नगरपालिकाओं में से 72 जगह भाजपा जीती है, कांग्रेस को केवल 1 मिली है, 18 नगरपालिका में कांग्रेस की इतनी दुर्दशा हुई कि उन्हें 1 भी सीट नहीं मिली।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘कांग्रेस ने काफी कोशिश की इस इस चुनाव को जीतने की, कुछ विधायक स्थानीय निकाय चुनाव में खुद लड़े, कहीं उनके परिवार के लोग लड़े, लेकिन ऐसे सारे उम्मीदवार हार गए, इस विजय का अर्थ है कि ये किसानों का वोट है, किसान कृषि सुधारों के साथ है।

 

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘ गुजरात के किसानों ने कृषि कानून और उसके सुधार में लाये गए कानून के पक्ष में अपना मत दिया है, कृषि कानून को गुजरात में कांग्रेस पार्टी ने मुद्दा बनाया, लेकिन नकारात्मक प्रचार को जनता ने नकार दिया।

 

 

राहुल गांधी के इमरजेंसी वाले बयान पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘राहुल गांधी को आरएसएस को समझने के लिए समय चाहिए, आरएसएस दुनिया का सबसे बड़ा संगठन है, जो मानवता और सामाजिक नैतिकता सिखाता है, राहुल गांधी इसे कभी नहीं समझ पाएंगे.’ वहीं, अनुराग कश्यप पर आयकर की छापेमारी को जावड़ेकर ने राजीनित से प्रेरित नहीं बताया।

 

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि राहुल गांधी ने माना की इमरजेंसी लगाना गलत था, आज मैं इस पर बहुत कुछ नहीं कहना चाहता हूं, लेकिन उन्होंने ये भी कहा की हमने किसी संस्था को नहीं छेड़ा, सच ये है कि उन्होंने मंत्री, सांसद, विधायक सबको जेल में डाला, प्रेस की आजादी छिन ली, क्या-क्या नहीं उस समय, राहुल गांधी को आरएसएस के बारे में पता नहीं है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.