ग्रेटर नॉएडा निवासी का निकला दीवाली पे दिवाला – क्लोंड एटीएम कार्ड से फ़्रॉड की सम्भावना

ROHIT SHARMA / ABHISHEK KUMAR

0 458

ग्रेटर नॉएडा :– दिल्ली एनसीआर में साइबर क्राइम बढ़ता ही जा रहा है | आपको बता दे की ग्रेटर नोएडा के निवासी समाजसेवक मीनाकेतन समल धोखाधड़ी शिकार बन गए | समाजसेवक मीनाकेतन समल के खाते को हैक कर एटीएम कार्ड की क्लोनिंग के द्वारा अपराधियों ने 1 लाख 34 हज़ार निकाल लिए |

दरअसल पीड़ित के खाते से 2 दिन लगातार पैसे निकाले गए | वही इस मामले की जानकारी मेसेज के द्वारा पीड़ित को मिली की आपके खाते से 1 लाख 34 हज़ार रूपये निकाले गए | आपको बता दे की ये पैसे दिल्ली में स्थित प्रीत विहार के हरगोविन्द एन्क्लेव में लगे एक एटीएम बूथ से निकाले गए | वही पीड़ित को आशचर्य हुआ की उसका एटीम उसके पास है तब भी फ़र्ज़ी एटीएम कार्ड के द्वारा पैसे निकल गए |

वही इस मामले को लेकर पीड़ित नोएडा के सेक्टर 18 में स्थित आईसीआईसीआई बैंक पहुँचा जहाँ उसका खाता है , उन्होंने बैंक के अधिकारीयों को इस मामलें में जानकारी दी की उनके खाते से किसी ने धोखाधड़ी करके पैसे निकाल लिए है | वही बैंक के अधिकारीयों ने इस मामले को लेकर पुलिस से शिकायत करने के लिए पीड़ित से कहा गया |

जिसके बाद पीड़ित इस मामले की शिकायत करने के लिए ग्रेटर नोएडा के सीओ प्रथम के पास पहुँचा , जहाँ पीड़ित को सूरजपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराने लिए भेजा गया , लेकिन सूरजपुर पुलिस ने इस मामले में पीड़ित की शिकायत न सुनकर मुकदमा दर्ज भी नहीं किया | पीड़ित का आरोप है की सूरजपुर थाने की पुलिस का रवैया ठीक नहीं था , उन्होंने मेरी शिकायत तक नहीं सुनी | जिसके बाद पीड़ित नोएडा के सेक्टर 20 थाना पहुँचा , जहाँ पीड़ित की शिकायत पत्र लिया गया , लेकिन अभी तक इस मामले में थाना 20 पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया |

हैरान वाली बात यह है की उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए है की पीड़ित को लेकर पुलिस अपना रवैया सही रखे , लेकिन इस निर्देश की धज्जिया नोएडा पुलिस उड़ा रही है | वही इस रवैया को देखते हुए पुलिस पर सवालिया निशान खड़े होते है | अब देखने वाली बात होगी इस मामले में मुकदमा दर्ज कर पुलिस कोई कार्यवाही करता है |

Leave A Reply

Your email address will not be published.