मोदी सरकार में विदेशी पर्यटन को मिला भारी बढ़ावा, नॉएडा के आरटीआई एक्टिविस्ट के सवालों पर सामने आए आँकड़े!

ROHIT SHARMA / ASHISH KEDIA

400

(08/04/18) नॉएडा :–

नॉएडा के युवा समाजसेवी एवं अधिवक्ता रंजन तोमर द्वारा डाली गई एक महत्वपूर्ण आरटीआई के सवालों से पर्यटन मंत्रालय से जुड़े कई चौकाने वाले तथ्य सामने आये हैं | आपको बता दे की रंजन तोमर ने आरटीआई के माध्यम से पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार से कुछ तथ्यात्मक सवालों के जबाब माँगे थे | दरअसल रंजन तोमर का पहला सवाल था की 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के उपरांत एवं मनमोहन सिंह की पिछली सरकार में तथ्यात्मक रूप से विदेशी पर्यटन क्षेत्र में साल दर साल आमदनी अथवा नुकसान आदि के आंकड़े प्रदान करें ,दूसरा सवाल यह पूछा गया था की यदि बढ़ोतरी हुई है तो पर्यटक संख्या एवं कमाई का ब्यौरा दिया जाए |

वही इन सवालों को लेकर पर्यटन मंत्रालय ने 2004 से 2014 तक यू पी ए सरकार एवं फिर 2014 से 2017 तक के आंकड़े तथ्यात्मक रूप में जारी किए , जिन्हे समझना बेहद ज़रूरी है| आरटीआई द्वारा जानकारी दी गई है की 2004 में विदेशी पर्यटकों की संख्या 34 लाख (तकरीबन ) थी जबकि विदेशी मुद्रा में उनसे कमाई 27944 करोड़ रुपए था, जो आंकड़ा 2017 में 1 करोड़ एक लाख हो गया और कमाई एक लाख 80 हज़ार करोड़ रुपए हो चुकी है |

मोदी सरकार के शुरूआती चार वर्ष (14 सम्मिलित ) को यदि मनमोहन सिंह के अंतिम चार वर्षो के साथ तुलनात्मक रूप से देखा जाए तो ब्यौरा इस प्रकार है :-

2010 में पर्यटकों की संख्या 57 लाख , कमाई तकरीबन 65 हज़ार करोड़ रुपए
2011 में पर्यटकों की संख्या 63 लाख , कमाई 77500 (तकरीबन ) करोड़ रुपए
2012 में पर्यटकों की संख्या तकरीबन 65 लाख , कमाई लगभग 94 हज़ार करोड़ रुपए
2013 में पर्यटकों की संख्या तकरीबन 70 लाख , कमाई लगभग एक लाख सात हज़ार करोड़ रुपए

अब यदि मोदी सरकार का ब्यौरा देखा जाए
2014 में पर्यटकों की संख्या लगभग 77 लाख पर्यटक , कमाई 1 लाख 23 हज़ार करोड़

2015 में पर्यटकों की संख्या 80 लाख एवं कमाई एक लाख पैंतीस हज़ार करोड़
2016 में पर्यटक बढ़कर 88 लाख एवं कमाई एक लाख चौवन हज़ार करोड़ रुपए
2017 पर्यटकों की संख्या बढ़कर एक करोड़ एक लाख हो गई जबकि उनसे कमाई एक लाख 80 हज़ार करोड़ रुपए

मोदी सरकार के इन वर्षो का कुल जोड़ यदि लगाया जाए तो तक़रीब तीन करोड़ 46 लाख पर्यटकों द्वारा तकरीबन 5 लाख 93 हज़ार करोड़ कमाई भारत को दी है | जबकि अंतिम चार वर्षों में मनमोहन सरकार के समय दो लाख 56 हज़ार के करीब पर्यटक भारत आये जिन्होंने तीन लाख 43 हज़ार करोड़ देश की अर्थव्यवस्था को दिए !

इन आंकड़ों से पता चलता है के मोदी सरकार द्वारा विदेशी पर्यटन के क्षेत्र में पिछली सरकार से ज़्यादा सफल रही है | जहाँ पर्यटकों की संख्या एवं उनके द्वारा देश को हुई कमाई दोनों ही पिछले सरकार के मुकाबले कहीं अधिक हैं ! गौरतलब यह भी है के गौतम बुध नगर से सांसद डॉक्टर महेश शर्मा भी कुछ समय तक पर्यटन मंत्री रहे हैं

रंजन तोमर ने इस आरटीआई से यह जानने के लिए लगाई थी के क्या मोदी सरकार पर्यटन के क्षेत्र में अपने वायदे पुरे करने की कोशिश कर भी रही है या नहीं ? एवं क्या पर्यटन के क्षेत्र में , जहाँ देश में बहुत बड़ी संभावनाएँ उपस्थित हैं उसमें नई सरकार कुछ कर पा रही है या नहीं , फिलहाल रंजन तोमर ने कहा के मोदी सरकार इस क्षेत्र में सही कार्य करती नज़र आ रही है, फिर भी जरुरी नीतियों को लगातार सही करते रहने की आवश्यकता है ! वही उनका कहना है की अगर मनमोहन सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पहले कुछ नीति को ला देती तो शायद पिछले 5 सालों में भारत का नाम विदेश के अंदर रोशन हो जाता |

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.