- Advertisement -

डॉ अच्युत सामंत की नई पहल , भुवनेश्वर में स्थापित की जाएगी इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ लॉ संस्था , शिक्षकों को दी जाएगी ट्रेनिंग

ROHIT SHARMA

0 227

नई दिल्ली:– कीट और किस डीम्ड विश्वविद्यालय और बार कॉउंसिल ऑफ इंडिया ने मिलकर एक नई पहल करने जा रही है , जिसको लेकर आज दिल्ली में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया ।

 

किट और किस डीम्ड विश्वविद्यालय के संस्थापक व लोकसभा सांसद डॉ अच्युत सामंत और बार कॉउंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मनन कुमार मिश्र ने प्रेस वार्ता करते हुए कहा कि बार कॉउंसिल ऑफ इंडिया , कीट विश्वविद्यालय के द्वारा भुवनेश्वर में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ की स्थापना की जाएगी । साथ ही उन्होंने कहा कि इस लॉ कॉलेज में सिर्फ प्रोफेसर को ट्रेनिंग दी जाएगी , वो ट्रेनिंग सुप्रीम कोर्ट के जज , हाइकोर्ट के जज देंगे । जिससे लॉ के बच्चों को अच्छी शिक्षा मिल सके ।

 

बार कॉउंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मनन कुमार मिश्र ने कहा कि ट्रस्ट के माध्यम से बार कॉउंसिल ऑफ इंडिया ने बीसीआई ट्रस्ट फ़ॉर प्रमोशन ऑफ एजुकेशन (कानूनी और व्यावसायिक) और विधि सुधार और अनुसंधान तथा सामाजिक प्रशिक्षण के सुधार के लिए “इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ” नामक एक आदर्श शिक्षक अकादमी की स्थापना के लिए पहल की है । यह संस्थान अधिवक्ताओं हेतु सतत हमेशा विधि शिक्षा एवम अनुसंधान का कार्यों का निर्वाह भी करेगी ।

 

 

साथ ही उन्होंने कहा कि इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ संस्थान भारत के प्रसिद्ध डीम्ड विश्वविद्यालय ‘कलिंग इंस्टिट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (कीट) के साथ मिलकर और इसके तत्वावधान में काम करेगा।

 

 

डॉ अच्युत सामंत ने कहा कि समय समय पर यह संस्थान अधिवक्ताओं , शिक्षाविदों और न्यायविदों के लिए संस्थान संगोष्ठियों , प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन और संचालन करेगा । साथ ही उन्होंने कहा कि प्रथम चरण में आईआईएल की पांच इकाई होगी ।बार कॉउंसिल ऑफ इंडिया ट्रस्ट शुरू के 3 वर्षों के लिए संस्थान के उक्त सभी कार्यक्रमों को स्वंय संचालित करेगा । उसके बाद नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी एवम अन्य पर्याप्त इंफ्रास्ट्रक्चर रखने वाले संस्थानों को भी आईआईएल की तर्ज पर पाठ्यक्रम प्रदान करने की अनुमति दी जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.