49.5 मेगावाट सोलर प्रोजेक्ट के साथ वारी एनर्जीज ने वियतनाम में रखा कदम , गिनाई उपलब्धियां

ROHIT SHARMA / JITENDER PAL

0 142

नई दिल्ली (04/05/2019):– भारत की अग्रणी सोलर पैनल विनिर्माता और इपीसी व रूफटाॅप सेगमेंट में अग्रणी कंपनी वारी एनर्जीज ने वियतनाम में 49.5 मेगावाट ग्राउंड माउंटेड सोलर प्रोजेक्ट की कमीशनिंग का ऐलान किया है।

वारी एनर्जीज के डायरेक्टर सुनील राठी ने दिल्ली में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि साॅन्ग गियांग सोलर पावर जेएससी के साथ मिलकर स्थापित किया जा रहा यह प्रोजेक्ट दक्षिण पूर्व एशिया में वारी एनर्जीज के कदम बढ़ाने का प्रतीक है। खान्ह होआ प्रांत में लग रहे इस प्रोजेक्ट से सालाना 78,600 मेगावाट बिजली उत्पादित होने का अनुमान है।



साथ ही उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी के कुल राजस्व में इसके अंतरराष्ट्रीय कारोबार का योगदान 15 प्रतिशत से ज्यादा रहने की उम्मीद है। इस प्रोजेक्ट के साथ ही कंपनी 600 मेगावाट सोलर ईपीसी प्रोजेक्ट्स का आंकड़ा छू लेगी। वियतनाम इलेक्ट्रिसिटी द्वारा 45 मेगावाट एसी, 49.5 मेगावाट डीसी के लिए मंजूर इस परियोजना में वारी को टर्नकी ईवीसी पार्टनर की तरह जोड़ा गया है। प्लांट के परिचालन और रखरखाव की जिम्मेदारी भी वारी की होगी।

यह प्रोजेक्ट सौर ऊर्जा के जरिये 12 गीगावाट बिजली उत्पादन के वियतनाम सरकार के लक्ष्य की दिशा में उठाया गया कदम है; इससे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वारी की उपस्थिति और विशेषज्ञता प्रमाणित होगी। वियतनाम दुनिया की 20 सबसे तेजी से बढ़ रही अर्थव्यवस्थाओं में शुमार है। यहां पावर सेक्टर में सालाना 6.8 अरब डाॅलर का निवेश हो रहा है। इस विकास परिदृश्य के बीच वियतनाम में कदम रखते हुए वारी ने क्षेत्र के स्थानीय लोगों के लिए 500 से ज्यादा रोजगार भी पैदा किया है।

इस मौके पर वारी एनर्जीज के डायरेक्टर सुनील राठी ने कहा, “2020 तक वियतनाम में ऊर्जा की मांग 10 प्रतिशत तक बढ़ने का अनुमान है और वारी इसी बढ़ती मांग को लक्ष्य बनाकर चल रही है। 100 मेगावाट की अंतरराष्ट्रीय परियोजनाएं इस समय पाइपलाइन में हैं और हम वैश्विक स्तर पर सौर ऊजा के प्रसार की दिशा में प्रयासरत हैं।

यह प्रोजेक्ट वारी के अब के काम की गुणवत्ता का प्रमाण है। यह उस विश्वास का प्रतीक है, जो वैश्विक स्तर पर वारी ने स्थापित किया है। हमें स्वयं पर गर्व है कि हमने शानदार गुणवत्ता के ऐसे मानक स्थापित किए हैं जो हमारे वैश्विक प्रतिस्पधियों से किसी मामले में कम नहीं हैं और इसी के दम पर हम वैश्विक इंडस्ट्री में अहम खिलाड़ी बनकर सामने आ रहे हैं। अगले पांच साल में हम अपने अंतरराष्ट्रीय कारोबार में उल्लेखनीय वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं।“

यह प्रोजेक्ट दक्षिण पूर्व एशिया में वारी एनर्जीज का पहला प्रोजेक्ट है। इसमें डायरेक्ट करंट (डीसी) फीचर भी है। इस प्रोजेक्ट को कैम रान सिटी में 60 हेक्टेयर में स्थापित किया गया है। स्थानीय सरकारी कंपनी वियतनाम इलेक्ट्रिसिटी इस संयंत्र से बनने वाली बिजली की खरीदार होगी। उसने वियतनाम सरकार द्वारा तय फीड-इन टैरिफ (एफआईटी) के आधार पर 20 साल का करार किया है| आपको बता दे कि इस समय वारी एनर्जीज के क्लाइंट 68 देशों में हैं और पीवी मैन्यूफैक्चरिंग, फ्रेंजाइजी और ईपीसी सेगमेंट से कंपनी के राजस्व का बड़ा हिस्सा आता है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.