कमिश्नरी प्रणाली लागू होते ही स्मार्ट पुलिसिंग पर जोर, डिजिटल वोलियंटर्स को लेकर लोगो को किया गया जागरूक

Abhishek Sharma

0 110

Greater Noida (22/01/2020) : कमिश्नरी प्रणाली लागू होते ही डिजिटल पुलिस पर जोर देना शुरू हो गया है। ग्रेटर नोएडा में नई कमिश्नरी प्रणाली लागू होने के बाद अब पुलिस आम जनता से रूबरू होने के लिए डिजिटल वोलियंटर्स ग्रुप की मदद ले रही है। यह वॉलिंटियर्स ग्रुप जनपद गौतम बुध नगर के सभी थानों में बनाए गए हैं।

इनमें ऐसे लोग जोड़े गए हैं जो समाज के हितों में बेहतर कार्य करने के लिए जाने जाते हैं। इन ग्रुप में वॉलिंटियर ग्रुप में डॉक्टर, वकील, गांव के प्रधान सरपंच आदि लोगों को जोड़ा गया है। अपराध पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस वॉलिंटियर ग्रुप से जुड़ेगी। साथ ही पुलिस चाहती है अब लोगो को सहूलियत मिले व थाने के चक्कर न लगाएं बल्कि यूपी कॉप ऐप से घर बैठे ही एफआईआर करे और उसकी जानकारी ले।

आप देख सकते है कि किस तरफ पुलिस लोगो को जगरूक कर रही है । जनपद गौतम बुध नगर में नई कमिश्नरी प्रणाली लागू होने के बाद पुलिस सीधे जनता से रूबरू होगी। 1 साल पहले बने उत्तर प्रदेश में डिजिटल वॉलिंटियर्स की मदद से अब पुलिस हर थानों में शहर के आरडब्ल्यूए, वकील, डॉक्टर गांव के प्रधान आदि लोगों को जोड़कर उनकी समस्याएं सुनेंगे।

जनपद गौतम नगर में जब यह वॉलिंटियर्स ग्रुप बनाए गए। तो इसमें किसी भी समाज के व्यक्ति ने रुचि नहीं दिखाई लेकिन अब नई कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद एक बार फिर वॉलिंटियर ग्रुप में जोर पकड़ लिया है। आज अधिकारियों ने बीटा टू थाने में शहर के लोगों के साथ ऑल इंटरग्रुप के संबंध में एक बैठक की और उसमें मौजूद लोगों को डिजिटल वॉलिंटियर्स ग्रुप के बारे में जानकारी दी।

साथ ही उत्तर प्रदेश पुलिस की यूपी कॉप एप्प के बारे में भी जागरूक किया गया ।लोगो से कहा कि आपका अपना थाना अब अपने फोन में है तो आपको कही जाने की ज़रूरत नही है ।किसी थाने में जाने की ज़रूरत नही है ।आप अपनी शिकायत अपने फोन से कर सकते है और उसी से उसकी अपडेट देख सकते है ।

कम्युनिटी पुलिसिंग व् डिजिटल पुलिसिंग के बाद के बाद वोइलिंटियर पुलिस की आँख कान बनेंगे हर जानकारी वो पुलिस को पहुचायेंगे। किसी भी कॉलेज के बहार खड़े मनचले,कोई भी सन्धिकद या कोई भी विवाद सभी पर ये लोग नज़र रख्नेगे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.