फोनरवा चुनाव में विमल शर्मा ने एनपी सिंह को लड़ने के लिए किया आग्रह

ROHIT SHARMA / LOKESH GOSWAMI

0 646

नोएडा :– फोनरवा के चुनाव की तारीख 21 जुलाई का एलान होने के साथ ही पूरे शहर में राजनीतिक सरगर्मी तेज होती जा रही है। इसी बीच करीब 14 साल तक फोनरवा के अध्यक्ष रहे एनपी सिंह ने इस बार चुनाव नहीं लड़ने का एलान करके सबको चौंका दिया है। उनके इस एलान से फेडरेशन के बाकी साथी काफी हैरान हैं ।



दरअसल एनपी सिंह ने कहा कि मैंने 14 साल तक इस पद पर रहकर जनता की यथासंभव सेवा की। अब नए लोगों को भी मौका मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह मेरा व्यक्तिगत फैसला है, वैसे भी मेरे पास पहले से कई जिम्मेदारियां हैं, उसे भी निभाने के लिए वक्त चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं फेडरेशन को भले ही छोड़ रहा हूं, लेकिन शहरवासियों की भलाई के लिए नए साथी को पूरा सहयोग और समर्थन रहेगा।

अधयक्ष पद पर घोषणा करते हुए सुरेश तिवारी क़ा नाम, महासचिव पर के के जैन व कोषाध्यक्ष सुरेश कृषनन का नाम प्रस्तावित किया गया | जिसको लेकर उनके सदस्यों ने स्वागत किया |

वही दूसरी तरफ सुरेश तिवारी ने कहा की प्रॉपर्टी फ्री होल्ड, प्राधिकरण में आरडब्ल्यूए की भागीदारी व आरडब्ल्यूए अध्यक्ष को प्रधान के बराबर दर्जा देना तब भी प्राथमिकता रहेगी, अब भी है।

वही इस मामले में सेक्टर 50 के आरडब्लूए अध्यक्ष विमल शर्मा का कहना है कि फोनरवा के चुनाव में एनपी सिंह को लड़ना चाहिए, क्योंकि एनपी सिंह के नेतृत्व में नोएडा का विकास हुआ, साथ ही हर सेक्टरों के विकास में उनकी अहम भूमिका रही है। अगर एनपी सिंह फोनरवा के अध्यक्ष बनते है तो जितने भी कार्य रुके हुए वो पूरे हो जाएंगे । एनपी सिंह के साथ काम करके बढ़िया लगता है , क्योंकि एनपी सिंह हर समस्याओं का निस्तारण कराने के लिए प्राधिकरण के अधिकारियों से लगातार वार्ता करते रहते है ।

वही दूसरी तरफ सुरेश तिवारी को लेकर उन्होंने कहा कि एनपी सिंह और धवन ने जो निर्णय लिया है, वो शायद सही होगा, लेकिन अगर एनपी सिंह अगर फोनरवा अध्यक्ष के चुनाव लड़ते तो अलग ही मजा आता ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.