अब कूड़े के पहाड़ और प्रदूषण से मिलेगी निजात, देश भर में लगेंगे 40 हजार सीएनजी प्लांट(सीबीजी), सरकार देगी सब्सिडी

0 363

नई दिल्ली: पूरे देश में कूड़े से सीएनजी गैस (सीबीजी) और ग्रीन डीजल बनाने की प्रक्रिया में तेजी से काम किया जा रहा है। भारत स्वच्छ अभियान के तहत भारत सहज योजना के आधार पर पूरे देश में 40 हजार सीएनजी प्लांट और 40 हजार सीएनजी पंप लगाए जा रहे है। इस योजना से भारत सरकार के सहयोग से नौ लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जा रहा है। जिसमें 15 लाख लोगों को रोजगार भी मिलेगा। पूरे देश में फैले कूड़े के पहाड़ और प्रदूषण से लोगों को निजात मिलेगा। यह कहना है नेक्सजेन एनर्जिया के सीएमडी पियूष द्वेदी का।

उल्लेखनीय है कि भारत स्वच्छ अभियान के तहत सरकार ने एक अनोखा तरीखा निकाल लिया है। अब पूरे देश सफाई अभियान के तहत कूड़ा निस्तारण की व्यवस्था सरकार ने कर ली है। भारत सरकार का प्रेट्रोलियम मंत्रालय ने नेक्सजेन एनर्जिया लिमटेड कंपनी की सहयता से कूड़े से सीएनजी गैस बनाने की प्रक्रिया के तहत काम कर रही है। सरकार के इस सहयोग से कंपनी पूरे देश में 40 हजार सीएनजी(सीबीजी) पंप और 40 हजार सीएनजी(सीबीजी) प्लांट खोलने जा रही है। इस योजना के तहत सभी प्रदेशों के सभी जिलों को कवर किया है। भारत सरकार की योजना में स्पष्ट है कि हर जिले में सीएनजी प्लांट लगाए जाएंगे, जिससे हर जिले को सफाई की मुहिम से जोड़ा जा सके। हर जिले के प्राधिकरण और नगर निगम के कर्मियों को सीएनजी प्लांट तक कूड़ा पहुंचाने की जिम्मेदारी दी गई है।

आप भी बन सकते है सरकार के सहयोगी, सरकार देगी सब्सिडी:

पियूष द्वेदी ने बताया कि इस योजना की खास बात यह है कि देश का कोई भी नागरिक सरकार की इस पहल का हिस्सा बन सकता है। भारत सरकार ने नेक्सजेन एनर्जिया को भारत के ही लोगों को इस योजना के साथ जोड़ने का आदेश दिया है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि इस योजना से लोगों को रोजगार के साथ कारोबार से भी जोड़ा जाएगा। इसके तहत देश की कोई भी नागरिक सीएनजी (सीबीजी) पंप या प्लांट खोलकर लाखों रुपये की कमाई कर सकता है। सरकार इस पहल को पूरे देश में समान रूप से लागू करने के लिए सब्सडी भी दे रही है। कूड़े से सीएनजी बनने की प्रक्रिया की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है। इसके पहले चरण में ही 120 सीएनजी प्लांट कूड़े से सीएनजी बना रहे है।

चार्जिंग स्टेशन बनाकर इलेक्ट्रिक ऊर्जा को मिलेगा बढ़ावा:

सहज भारत योजना के तहत Nexgen Energia Limited के सहयोग से देशभर में किसी भी जिले का कोई भी व्यक्ति अपने शहर में सीएनजी पंप, सीएनजी (सीबीजी) गैस उत्पादन का उद्योग, इंडस्ट्रियल हाई स्पीड डीजल प्लांट, इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन, जैविक खाद और मलवे से ईंट निर्माण का कारोबार कर सकता है। सीएनजी पंप समेत कारोबार करने वालों को पांच साल तक आयकर मुक्त, सरकार से 4 करोड़ तक की सब्सिडी और सभी निजी और राष्ट्रीयकृत बैंकों से लोन की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी।

बैंक से लोन की सुविधा देगी सरकार:

कारोबार शुरू करने वाले लोगों को भारत सरकार और कंपनी की तरफ से कई तरह की सुविधाएं दी जाएंगी. इसमें, सीएनजी पंप, इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन करने पर आपको पांच साल तक के लिए सरकार से सब्सिडी, आयकर में छूट और बैंकों से आसान लोन की सुविधा मिलेगी. इसके अलावा कंपनी की तरफ से दी जाने वाली निजी सेवाओं का भी लाभ मिलेगा.

कौन खोल सकता है CNG पंप (CBG):

CNG पंप (CBG)के लिए कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता है. पहले से कारोबार में मौजूद लोग भी इसके लिए आवेदन कर सकता है।
स्वच्छता अभियान में बने सरकार के सहयोगी और करें बिजनेस – भारत सरकार और Nexgen की ओर से सीएनजी पंप, सीएनजी (सीबीजी) गैस उत्पादन, इंडस्ट्रियल हाई स्पीड डीजल प्लांट, इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन जैसे कारोबार शुरू करने के लिए आवेदन खोले गए हैं.

कितना निवेश करना होगा:

भारत सरकार के सहयोग से CNG पंप खोलने के लिए आवेदकों को करीब 99 लाख रुपए का निवेश करना होगा. इसमें लाइसेंस फीस और पंप की लागत शामिल है।
सीएनजी गैस उत्पादन (सीबीजी) का प्लांट लगाने के लिए करीब 2.99 करोड़ रुपए से 10 करोड़ रुपए का निवेश करना होगा. इसमें लाइसेंस फीस शामिल नहीं है।
इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन लगाने के लिए 25 लाख का निवेश करना होगा। इसमें लाइसेंस शुल्क और मशीन की लागत शामिल है.
इंडस्ट्रियल हाईस्पीड डीजल प्लांट के लिए 5 करोड़ रुपए का निवेश करना होगा. हालांकि, इसकी लाइसेंस फीस अलग से देनी होगी.

ऐसे करें आवेदन:

कंपनी की वेबसाइट www.nexgenenergia.com पर जाकर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है.
NEXGEN ENERGIA के मोबाइल ऐप से भी आवेदन कर सकते हैं.
आवेदक अपना प्रोफाइल बनाकर business@nexgenenergia.com और businessnge@gmail पर ईमेल के जरिए भी भेज सकता है.
आवेदन करने के लिए अपनी डिटेल्स भरकर सब्मिट कर दें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.