अरविंद केजरीवाल का बयान , किसी प्रवासी को नहीं आएगी तकलीफ, ट्रेनों का किया जाएगा इंतजाम

Rohit Sharma

0 109

नई दिल्ली :– लॉकडाउन के कारण कई मजदूर अपने-अपने प्रदेशों में वापस नहीं जा पा रहे हैं। इसलिए वे पैदल ही अपनी यात्रा शुरू कर घरों की तरफ निकल रहे हैं , लेकिन ये सफर इतना भी आसान नहीं है, क्योंकि रोजाना मजदूरों के साथ हादसे हो रहे हैं ।

पैदल घर को निकल रहे मजदूरों के साथ हो रहे हादसों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी अधिकारियों को आदेश जारी किए हैं कि किसी प्रवासी को कोई तकलीफ नहीं होनी चाहिए. उनके लिए जितनी जरूरत होगी, उतनी ट्रेन का इंतजाम किया जाएगा।

वहीं इससे पहले दिल्ली के मुख्य सचिव ने सभी जिलाधिकारियों और पुलिस आयुक्तों को निर्देश दिया कि किसी भी प्रवासी मजदूर को दिल्ली से पैदल नहीं जाने दिया जाए ।

निर्देश में कहा गया है कि जो भी प्रवासी मजदूर अपने गांव जाने के लिये पैदल निकलता दिखाई देता है को उसे शेल्टर होम भेजा जाए. इसके बाद सरकार उनके जाने का इंतजाम करेगी. सरकार इसके लिये रेलवे से बातचीत कर उनके जाने का इंतजाम करेगी. दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव ने निर्देश देते हुए कहा है कि दिल्ली में बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर अपने घरों के लिये निकल रहे हैं ।

ये मजदूर सड़कों पर तो कोई रेलवे ट्रैक के साथ-साथ चल रहे हैं. इसके कारण हादसों का अधिक डर बना हुआ है. अब किसी भी प्रवासी मजदूर को इस तरह पैदल उनके गांव जाने नहीं दिया जाएगा. ये जिम्मेदारी जिला प्रशासन और पुलिस को सौंपी गई है. इसके लिये जिला प्रशासन को रेलवे से बातचीत करनी होगी ।

वहीं, जो भी मजदूर रेलवे ट्रैक या सड़कों पर अपने घर के लिये पैदल निकलता दिखाई दे उसको तुरंत शेल्टर होम भेजा जाए. जब तक ट्रेन का इंतजाम नहीं होता उनके लिये वहां पर रहने, खाने-पीने की पूरी व्यवस्था की जाए. साथ ही उनको भेजने के लिये श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन का इंतजाम किया जाए ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.