दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव: ईवीएम मशीन में खराबी और छात्रों के हंगामे व तोड़फोड़ को लेकर मतगणना कल तक के लिए स्थगित

Rohit Sharma (Photo/Video) By Lokesh Goswami Ten News Delhi :

70

दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव की मतगणना चल रही थी , सभी छात्रों को रिजल्ट का इन्तेजार था। लेकिन क्या पता था कि आज छात्रसंघ चुनाव का आज रिजल्ट देखने को नही मिलेगा । दरअसल दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव के लिए चल रही मतगणना में अचानक ईवीएम मशीन में खराबी और छात्रों के हंगामे व तोड़फोड़ को देखते हुए मतगणना कल तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

आपको बता दे कि पहले मतगणना कुछ देर के लिए स्थगित की गई थी। करीब तीन घंटे पहले छठे राउंड की मतगणना के दौरान छह ईवीएम मशीनें खराब और हो गई थीं ।

खासबात यह है कि दोपहर 1:15 बजे के करीब, एनएसयूआई और एबीवीपी के प्रतिनिधियों की गैर मौजूदगी में मतगणना को फिर से शुरू करवा दिया गया था। इसका पता चलते ही एनएसयूआइ समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया। जिसको लेकर पुलिस बल भी तैनात कर दिया गया ।

वही इस मामले में एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं का कहना है कि ईवीएम मशीन के अंदर 10 नंबर पर 40 वोट डले , लेकिन 10 नंबर कोई भी उम्मीदवार नही है , क्योंकि ईवीएम मशीन में 9 नंबर नोटा का बटन होता है उसके बाद किसी भी उम्मीदवार का नंबर नही होता है , आखिर ये 40 वोट कैसे 10 नंबर डली। वही इस धांधली को लेकर एनएसयूआई ने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया ।

एनएसयूआई के समर्थक मांग कर रहे हैं कि पहले खराब ईवीएम मशीन को ठीक कराया जाए। इसके बाद आगे की मतगणना की जाए। उनकी मांग न माने जाने पर एनएसयूआइ समर्थों ने पहले जमकर विरोध किया और फिर हंगामा शुरू कर दिया। हंगामे को देखते हुए मतगणना कल तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

वही एनएसयूआई के पूर्व नेता अजय हुड्डा का कहना है कि एक के बाद 6 ईवीएम मशीन ख़राब हो चुकी है । अचानक से ईवीएम मशीन कैसे खराब हो सकती है ये सवालिया निशान चुनाव आयोग पर खड़ा होता है । साथ ही ये मतगणना कल के स्थगित कर दी है , कही न कही बीजेपी की चाल है , जो एवीबीपी को जिताने में लगी हुई है , क्योंकि आज के मतगणना में एनएसयूआई अध्यक्ष , उपाध्यक्ष पद पर आगे चल रही थी । साथ ही उन्होंने मांग की है की चुनाव द्वारा से होने चाहिए , क्योंकि बीजेपी एवीबीपी को जिताने के लिए कुछ भी कर सकती है ।

वही दूसरी तरफ एनएसयूआइ प्रतिनिधि अक्षय और एबीवीपी की छात्र नेता एवं डूसू की पूर्व सचिव महामेधा के बीच मतगणना स्थल के अंदर कहा सुनी हो गई। इनके बीच कहासुनी होने का पता चलते ही दोनों पार्टियों के समर्थकों के बीच भी झड़प शुरू हो गई। पुलिस ने मतगणना स्थल के भीतर किसी तरह दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर शांत कराया। इसके बाद मतगणना स्थल पर फोर्स बढ़ा दी गई है।

साथ ही इन सभी आरोप को लेकर एवीबीपी की राष्ट्रीय प्रवक्ता मोनिका चौधरी का कहना है कि जो भी एनएसयूआई आरोप एवीबीपी पर लगा रही है , वह बिल्कुल गलत है । अगर ईवीएम मशीन खराब हो गई है तो इस मामले में चुनाव आयोग को जाँच करनी चाहिए ।

वही उनका कहना है की जो 10 नंबर पर 40 वोट पड़े है ये मामला सामने आया है , जिससे हमारा भी नुकसान हुआ है । इस मामले में भी वरिष्ठ अधिकारी को सूचना दी गयी है ।

एवीबीपी की मांग है कि जो 6 ईवीएम मशीन खराब हुई है , उसको सही करवा करके काउंटिंग शुरू करवाई जाए , लेकिन एनएसयूआई चाहती है कि द्वारा से इलेक्शन करवाया जाए ।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.