हथिनी कुंड बैराज से यमुना में छोड़ा गया आठ लाख क्यूसेक पानी, इन गाँवों में बाढ़ का अलर्ट जारी

ABHISHEK SHARMA

0 562
Noida (19/08/2019) : यमुना व हरनंदी में बाढ़ की आशंका के मद्देनजर जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से आठ लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद आज यमुना नदी का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर आने की संभावना है। जिला प्रशासन ने सभी उप जिलाधिकारी, तहसीलदार व लेखपालों को अपने-अपने क्षेत्र में मौजूद रहने का निर्देश दिया है।
इन्हें यमुना व हरनंदी के बढ़ते जलस्तर पर नजर रखने के लिए कहा गया है। बाढ़ संभावित गांवों में चौकियां बना कर कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी गई है। प्रशासन ग्रामीणों को अलर्ट के लिए मुनादी करा रहा है। प्रशासन का कहना है कि रविवार को हथिनी कुंड बैराज से आठ लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। जिले के बाढ़ संभावित गांवों में इस पानी का असर 30 घंटे बाद दिखेगा।



अभी यमुना का जल स्तर खतरे के निशान से करीब डेढ़ मीटर नीचे है। हथिनी कुंड से छोड़ा गया पानी मंगलवार सुबह तक नोएडा व ग्रेटर नोएडा के इलाके में पहुंचेगा। इधर लगातार हो रही बारिश से हरनंदी व यमुना नदी का जलस्तर बढ़ रहा है। बाढ़ की संभावना के देखते हुए प्रशासन ने राहत व बचाव कार्य के लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं।

बाढ़ संभावित गांवों में रहने वाले लोगों को अलर्ट रहने की चेतावनी दी जा रही है। रविवार को कुलेसरा में मुनादी करा कर लोगों को जरूरत के सामान के साथ सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए अलर्ट रहने की चेतावनी दी गई है।

प्रशासन ने बाढ़ संभावित गांवों में तत्काल मदद पहुंचाने के उद्देश्य से 12 स्थानों पर चौकी स्थापित की है। यह चौकियां लतीफपुर बांगर प्राथमिक स्कूल, घरबरा, कासना, बादौली बांगर, याकूतपुर, कुलेसरा, जनता इंटर कॉलेज जेवर, मेवला गोपालगढ़, झुप्पा, भाईपुर ब्रह्मनान, जेवर तहसील परिसर में स्थापित की गई हैं। इन चौकियों पर 24 घंटे कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी है। इन्हें समय से ड्यूटी स्थल पर मौजूद रहने का निर्देश दिया गया है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.