आप पार्टी ने शुरू की दिल्ली में शुरू किया ‘सेफ्टी फर्स्ट सर्वे‘ , भय लगने वाले स्थानों का होगा सर्वेक्षण

Rohit Sharma

0 101

नई दिल्ली :– आम आदमी पार्टी विधायक आतिशी ने अपने विधानसभा क्षेत्र कालकाजी में आज ‘सेफ्टी फ़र्स्ट सर्वे‘ शुरू किया। इसका मकसद स्थानीय नागरिकों के लिए सुरक्षा के कारगर उपायों पर विचार करके ठोस कदम उठाना है।

 

कालकाजी विधायक ने स्थानीय नागरिकों से पिछले दिनों इस क्षेत्र में असुरक्षा संबंधी मामलों की जानकारी मिलने के कारण यह सर्वे प्रारंभ किया है। नागरिकों से मिली शिकायतों के बाद आतिशी ने पिछले दिनों कालकाजी मार्केट, देशबंधु कॉलोनी, सुखदेव विहार, कालकाजी ब्लॉक्स, साउथ पार्क अपार्टमेंट इत्यादि का दौरा करके स्थानीय निवासियों और व्यापारियों से चर्चा की।

 

इस दौरान उन्हें चोरी, असामाजिक गतिविधियों, छेड़खानी और गुंडागर्दी जैसे बढ़ते मामलों की शिकायतें मिलीं। इसके कारण आतिशी ने कालकाजी विधानसभा क्षेत्र के निवासियों की सुरक्षा को प्राथमिक मुद्दा बनाया है।

 

 

‘सेफ्टी फर्स्ट फाॅर कालकाजी‘ सर्वेक्षण के तहत विधानसभा क्षेत्र के नागरिकों से गूगल फॉर्म और प्रश्नावली के जरिए जानकारी हासिल की जाएगी। इसके लिए कालकाजी को कई जोन में बांटकर यापारी संघों की मदद से सर्वेक्षण शुरू किया गया है। इस सुरक्षा सर्वेक्षण के माध्यम से नागरिकों से उन समस्याओं की जानकारी ली जा रही है, जिनका उन्हें सामना करना पड़ रहा है।

 

 

सर्वे फाॅर्म में बहुविकल्प और लघु-उत्तर प्रश्नावली दी गई है। इसमें नागरिक किस वक्त और किन जगहों पर ज्यादा खतरा महसूस करते हैं, किन वजहों से किस प्रकार की असुरक्षा महसूस करते हैं, और किसी वारदात की शिकायत कहां करते हैं, इन विषयों पर जानकारी मांगी गई है।

 

 

सर्वेक्षण में चार तरह के समाधान पर भी सुझाव मांगे गए हैं- सीसीटीवी कैमरे लगाना, डार्क स्पॉट को खत्म करना, आत्मरक्षा कार्यशालाएं और पुलिस-पेट्रोलिंग बढ़ाना। इससे अपराध के तरीकों और गैरकानूनी गतिविधियों संबंधी डेटा एकत्र करने में मदद मिलेगी और सुरक्षा के स्तर का पता चलेगा।

 

 

कालकाजी विधायक ने कहा कि लोकतंत्र का मतलब सिर्फ पांच साल में एक बार अपना प्रतिनिधि चुनने तक सीमित नहीं है। नागरिकों के साथ नियमित संपर्क और उनके कल्याण के लिए प्रयासरत रहना जनप्रतिनिधि का दायित्व है।

 

इसलिए इस सर्वेक्षण से मिले फीडबैक के आधार पर सुरक्षा के उपाय लागू किए जाएंगे। आतिशी ने कहा कि नागरिकों से जीवंत संपर्क बनाए रखने के लिए विधायक कार्यालय में 24×7 हेल्पलाइन की भी व्यवस्था की जा रही है ताकि नागरिक अपनी शिकायत दर्ज करा सकें और उसकी स्थिति जांच सकें।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.