- Advertisement -

आप पार्टी विधायकों का आरोप, बीजेपी के कहने पर दिल्ली पुलिस ने महिलाओं के साथ की हाथापाई, प्रदर्शनकारियों के फाडे कपड़े 

ROHIT SHARMA

0 157

नई दिल्ली :– आम आदमी पार्टी समेत हज़ारों की संख्या में कर्मचारियों ने ठेकेदारी लागु करने के विरोध में कल सिविक सेंटर पर प्रदर्शन किया था , जिसको लेकर दिल्ली पुलिस द्वारा लाठीचार्ज की गई , वही दिल्ली पुलिस द्वारा आप पार्टी के विधायक समेत कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई |

 

वही पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर को लेकर आप पार्टी के विधायकों ने प्रेस वार्ता की , जिसमे उन्होंने कहा की बीजेपी के कहने पर दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के साथ बर्बरतापूर्ण रवैया दिखाया ।

 

पुलिस ने महिलाओं के साथ हाथापाई की , लाठी चलाई , कपड़े फाड़े , सभी आप विधायको के साथ हाथपाई की । अब पुलिस ने हमारे खिलाफ एफआईआर दर्ज की है , लेकिन मैं बताना चाहती हूं कि हम दलितों के अधिकारों के लिए आवाज उठाते रहेंगे , हम डरने वाले नही हैं ।

बीजेपी के कहने पर जो दिल्ली पुलिस ने किया है वो बेहद निंदनीय है , झूठी एफआईआर दर्ज करने की आवश्कयता नही , हम अपनी गिरफ्तारी देने के लिए तैयार है , लेकिन हम चुप बैठने वाले नही है । क्या BJP की MCD द्वारा किए जा रहे निजीकरण का विरोध करना दिल्ली पुलिस की नज़र में गुनाह है?

साथ ही उन्होंने कहा की बर्बता दिल्ली पुलिस का रवैया रहा है, हमारे साथ वाल्मीकि समाज के लोग भी थे। हम सिर्फ शांतिपूर्ण तरीके से काले कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने जो लाठी बरसाई हम उससे डरने वाले नही है़।

हमारे विरोध की वजह से बीजेपी ने एमसीडी ने काले कानून के प्रस्ताव को वापिस ले लिया है, हम जेल जाने से डरने वाले है। अगर बीजेपी शासित एमसीडी फिर यह प्रस्ताव लाती है तो फिर से आप पार्टी इसका विरोध करेगी। अगर जेल भेजना है तो भेज दो, गोली मारनी है तो गोली मार दो, लेकिन इस प्रस्ताव को पास नहीं करने देगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.