राष्ट्रीय स्तर पर एआईसीटीई द्वारा शोभित विश्वविद्यालय को उत्कृष्ट संस्थान विश्वकर्मा पुरस्कार -2020

0 82

कोविड-19 महामारी के दौरान शोभित  विश्वविद्यालय के द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) द्वारा विश्वविद्यालय को विश्वकर्मा दिवस पर “उत्कृष्ट संस्थान विश्वकर्मा पुरस्कार 2020” से नवाजा गया। विश्वविद्यालय को यह पुरस्कार एआईसीटीई द्वारा आयोजित कार्यक्रम में भारत के शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक जी के करकमलों द्वारा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एपी गर्ग को दिया गया।

इस प्रतियोगिता में कुल 900 संस्थानों ने भाग लिया।  शोभित विश्वविद्यालय ने अंतिम 35 में अपनी जगह बनाई। जिसमें एआईसीटीई द्वारा 14 अलग-अलग कैटेगरी में से शोभित विश्वविद्यालय को संस्थागत बुनियादी ढांचा  एवं प्रशासन को कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए  दी गई  सुविधाओं के लिए विश्वविद्यालय को राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया।

शोभित विश्वविद्यालय ने कोविड-19 महामारी के दौरान प्रशासन को 100 बेड का   क्वॉरेंटाइन सेंटर अपने अंतरराष्ट्रीय छात्रावास में बना कर दिया जिसमें प्रशासनिक एवं अन्य लोगों को क्वॉरेंटाइन किया गया। इसी के साथ-साथ विश्वविद्यालय ने  10,000 से अधिक हैंड सैनिटाइजर प्रशासन एवं  क्षेत्र के लोगों में वितरित किए । इसी के साथ साथ शोभित विश्वविद्यालय द्वारा प्रधानमंत्री राहत कोष में दिए गए सहयोग तथा विश्वविद्यालय द्वारा स्थापित कोविड-19 मनोवैज्ञानिक टैली सहायता केंद्र की भी एआईसीटीई की निर्णायक मंडल द्वारा सराहना की गई। विश्वविद्यालय ने हाल ही में लगभग 500 छात्रों का यूपी कैट कि ऑफलाइन परीक्षा भी कोविड-19 की गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए  सफलतापूर्वक कराई है।

एआईसीटीई के निर्णायक मंडल ने विश्वविद्यालय द्वारा कोरोना वायरस से लड़ने के लिए दिए गए विभिन्न ऑनलाइन व्याख्यान और जनता से संवाद की सराहना करते हुए विश्वविद्यालय का चयन इस पुरस्कार के लिए किया। इस उपलब्धि पर विश्वविद्यालय के कुलाधिपति कुंवर शेखर विजेंद्र एवं कुलपति प्रो  एपी गर्ग द्वारा विश्वविद्यालय के सभी शिक्षकों एवं छात्रों को शुभकामनाएं दी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.