कालकाजी में आप पार्टी की विधायक आतिशी ने ‘सेफ्टी फर्स्ट‘ का शुरू किया दूसरा चरण , अधिकारियों को दिए सख्त निर्देश

ROHIT SHARMA

0 248

नई दिल्ली :– विधायक आतिशी ने आज कालकाजी में ‘सेफ्टी फर्स्ट‘ अभियान का दूसरा चरण शुरू किया। प्रथम चरण में प्रारंभ किए गए सर्वेक्षण और सुरक्षा प्रश्नावली के जवाब में नागरिकों से मिले सुझावों के आलोक में यह दूसरा चरण शुरू हुआ। इस सर्वे के अंतर्गत पूरे कालकाजी विधानसभा क्षेत्र में नागरिकों से सुरक्षा संबंध स्थिति और सुझाव मांगे जा रहे हैं।

 

 

दूसरे चरण के तहत आज आतिशी ने कालकाजी स्थित एसईएस फ्लैट्स, सी-ब्लॉक फ्रेंड्स कॉलोनी, ब्लॉक-4, अपना पार्क और एच, एफ और जी ब्लॉक में नागरिकों के साथ बैठकें कीं। इस दौरान स्थानीय लोगों खासकर युवाओं और महिलाओं तथा आरडब्ल्यूए सदस्यों ने सुरक्षा संबंधी चिंताओं पर विस्तार से सुझाव दिए। नागरिकों ने विधायक आतिशी के इस प्रयास की सराहना भी की।

 

सेफ्टी फर्स्ट फॉर कालकाजी अभियान के दूसरे चरण में क्षेत्र के असुरक्षित स्थानों की पहचान करके डार्क सपॉट्स को खत्म करने के लिए फील्डवर्क और सीसीटीवी लगाने के लिए साइट-मैपिंग की जा रही है। स्थानीय निवासियों ने खासकर सीसीटीवी लगाने को सबसे जरूरी कदम बताया है।

 

 

सुरक्षा प्रश्नावली में ज्यादातर लोगों ने सीसीटीवी लगाने के सुझाव दिए। इसके आधार पर अब तक 250 से अधिक स्पॉट की पहचान की गई है। आने वाले हफ्तों में स्थानों को भी सीसीटीवी लगाने के लिए फाइनल किया जाएगा। इन स्थानों का सर्वेक्षण एक तकनीकी टीम द्वारा भी किया जाता है जो सभी आवश्यक दस्तावेजों और तकनीकी प्रोटोकॉल का ध्यान रखती है।

 

 

आतिशी ने कालकाजी के नागरिकों के साथ नियमित बैठकों और संवाद के जरिए इन स्थानीय समस्याओं और खासकर सुरक्षा संबंधी मामलों पर सुझाव लेने का सिलसिला तेज कर दिया है। कालकाजी, बी ब्लॉक की निवासी पूनम मल्होत्रा ने अपने मोहल्ले में सीसीटीवी कैमरे लगने पर प्रसन्नता जताई। उन्होंने कहा कि पहले हम रात में बाहर निकलने से डरते थे, लेकिन आतिशी के लिए धन्यवाद, अब हमारे कॉलोनी में सीसीटीवी कैमरे हैं, जो हमें इतना सुरक्षित महसूस कराते हैं।

 

 

इस परियोजना को कई चरणों में विभाजित किया गया है क्योंकि इस कार्य में स्थानीय निवासियों की भागीदारी जरूरी है ताकि प्रगति की नियमित निगरानी हो सके।

 

 

कालकाजी, जी ब्लॉक निवासी सिधवानी ने कहा कि विधायक आतिशी ने पहली बैठक के आठ दिनों के भीतर कार्यकर्ताओं की एक टीम को सुरक्षा सर्वेक्षण करने के लिए भेजा। हमें खुशी है कि हमारी सुरक्षा के लिए इस तरह की त्वरित कार्रवाई की जा रही है।

 

 

निवासियों को भरोसा है कि एक शैक्षणिक और सुधारवादी नजरिए वाली आतिशी उनके क्षेत्र का समुचित विकास करने में सबको साथ लेकर सही दिशा में आगे ले जाएंगी। यह उनकी पहले की कार्यपद्धति में भी देखा गया है, जब उन्होंने शिक्षा मंत्री के सलाहकार के तौर पर दिल्ली में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को आगे बढ़ाया। अब कालकाजी में सुरक्षा सुनिश्चित करने में उनकी पहल की नागरिकों में काफी चर्चा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.