आप पार्टी का बयान , कैप्टन भाजपा का सीएम है, मोदी के इशारे पर केजरीवाल पर झूठे आरोप लगा रहा है

ROHIT SHARMA

0 187

नई दिल्ली :– आम आदमी पार्टी ने कहा कि सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और भाजपा आपस में मिलीभगत करके तीनों काले कानूनों को दिल्ली में लागू करने का आम आदमी पार्टी पर झूठा आरोप लगा रहे हैं। मोदी सरकार की तैयारी थी कि किसानों को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया जाए, केजरीवाल सरकार ने स्टेडियम को जेल बनाने से इंकार किया और सारा प्लान फेल हो गया।

 

 

किसानों को जेल में डालने का प्लान फेल होने के बाद भाजपा और कैप्टन ने सेटिंग कर केजरीवाल को बदनाम करने का प्लान बनाया और काले कानून पास करने का झूठा आरोप लगाया। सारा पंजाब जानता है कि कैप्टन अमरिंदर और अकाली दल ने तीनों काले कानून को पास कराने में मोदी का साथ दिया था।

 

सीएम अरविंद केजरीवाल एक सच्चे आदमी हैं और किसानों के साथ अंतिम सांस तक खड़े रहेंगे। आम आदमी पार्टी का कहना है कि कैप्टन भाजपा का सीएम है। मोदी का आदमी है। मोदी केजरीवाल से बहुत ज़्यादा नाराज़ है कि केजरीवाल ने जिस तरह से किसानों की मदद की है। मोदी के कहने पर आज कैप्टन ने केजरीवाल पर ये झूठे आरोप लगाए हैं। कैप्टन खुले आम मोदी के साथ है और किसानों को धोखा दे रहा है।

 

आम आदमी पार्टी ने कहा कि सोचने वाली बात है कि कैप्टन ने आज केजरीवाल पर ये आरोप क्यों लगाए? केजरीवाल सरकार कैसे कैसे यह कानून लागू कर सकता है? अगर यह पावर राज्य सरकारों के पास होती तो पंजाब को डरने की जरूरत ही नहीं थी। दरअसल कैप्टन को मोदी ने कहा है कि केजरीवाल को ठोको। मोदी दिल्ली में किसानों को क़ैद करने के लिए स्टेडियम को जेल बनाना चाहते थे। उनका प्लान था की सभी किसानों को जेल में भर देंगे। केजरीवाल ने इजाज़त नहीं दी।

 

अब मोदी केजरीवाल से बहुत नाराज़ हैं। ऊपर से केजरीवाल ने सभी किसानों के लिए सारे बंदोबस्त कर दिए। मोदी ने अब कैप्टन को कहा है की केजरीवाल को बदनाम करो। इसके बाद भाजपा और कैप्टन ने सेटिंग कर केजरीवाल को बदनाम करने का प्लान बनाया और काले कानून पास करने का झूठा आरोप लगाया।

 

आम आदमी पार्टी ने कहा कि सारा पंजाब जानता है कि किस तरह से कैप्टन अमरिंदर ने और अकाली दल ने तीनों काले कानून को देश की संसद में पास कराने के लिए मोदी का साथ दिया था, जिस कमेटी ने काले कानून बनाए थे, कैप्टन अमरिंदर सिंह उस कमेटी के सदस्य थे। उस कमेटी की एक साल से कई मीटिंग हुई और कैप्टन साहब ने उन मीटिंग में से आकर देश को नहीं बताया कि वह कमेटी ऐसा काला कानून बना रही है। जब काला कानून संसद के अंदर पास हो गया, तब अकाली दल और कैप्टन दोनों ने मिलकर इसका विरोध करना चालू किया है। इनका विरोध केवल एक तमाशा है और सारा पंजाब और सारा देश जानता है कि किस तरह से कैप्टन अमरिंदर ने और अकाली दल ने देश के किसानों को धोखा दिया। आज पंजाब के अंदर सारे किसान इन तीनों काले कानूनों के खिलाफ हैं।

 

 

आम आदमी पार्टी ने कहा कि अगर केजरीवाल ने दिल्ली में यह तीनों काले कानून पास किए होते तो क्या दिल्ली के किसान केजरीवाल जी का विरोध नहीं कर रहे होते। आज एक भी दिल्ली का किसान केजरीवाल का विरोध नहीं कर रहा है। आज दिल्ली की कोई भी किसान जत्थेबंदी केजरीवाल का विरोध नहीं कर रही है। इससे साफ जाहिर है कि कैप्टन अमरिंदर और अकाली दल दोनों ही लोगों को गुमराह कर रहे हैं और दोनों ही केजरीवाल पर झूठे इल्जाम लगा रहे हैं। केजरीवाल एक सच्चे आदमी हैं और आम आदमी हैं। केजरीवाल किसानों के साथ खड़े हैं और अंतिम सांस तक खड़े रहेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.