नोएडा प्राधिकरण में आग लगी या लगाई गई? , सीईओ ने गठित की जांच कमेटी

Abhishek Sharma

0 213

नोएडा प्राधिकरण के इंडस्ट्री डिपार्टमेंट में सोमवार सुबह भीषण आग लग गई। इसमें बड़ी संख्या में फाइलें जलकर खाक हो गई हैं। इस मामले में प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु महेश्वरी ने जांच के आदेश दिए हैं।

6 अधिकारियों की एक टीम बनाकर एक हफ्ते में रिपोर्ट देने को कहा गया है। यह रिपोर्ट मुख्य कार्यपालक अधिकारी को सौंपनी होगी। मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी प्रवीण कुमार मिश्र की अध्यक्षता में 6 अफसरों की जांच समिति बनाई है।

इस समिति में विशेष कार्याधिकारी राजेश कुमार सिंह, विशेष कार्याधिकारी संतोष उपाध्याय, महाप्रबंधक राजीव त्यागी, महाप्रबंधक केके अग्रवाल और महाप्रबंधक सिस्टम्स को शामिल किया गया है।

सीईओ ऋतु महेश्वरी ने बताया कि सोमवार सुबह 8:45 बजे प्राधिकरण के कार्यालय में आग लगी है। आग इंडस्ट्रियल डिपार्टमेंट के लेखा विभाग में लगी है। सीईओ ने इस समय का उल्लेख उन्हें दी गई सूचना के आधार पर किया है।

आग पर काबू पाने के लिए फायर ब्रिगेड की टीम ने भारी मात्रा में पानी का इस्तेमाल किया, इससे रिकॉर्ड को दोगुना नुकसान पहुंचा है। मतलब, पहले आग ने रिकॉर्ड को जलाया और रही सही कसर पूरी पानी ने कर दी। अनुमान लगाया जा रहा है कि बड़ी संख्या में फाइलें जलकर राख हो गई हैं।

विकास प्राधिकरण में लंबे अरसे से दस्तावेजों का डिजिटलाइजेशन किया जा रहा है। लेकिन पूरा होने का नाम ही नहीं ले रहा है। दरअसल, विकास प्राधिकरण डिजिटलाइजेशन को लेकर कोई खास संजीदा नहीं है। कई बार विकास प्राधिकरण के विभागों में पेपर लेस वर्क करने पर भी जोर दिया गया। इस दिशा में भी कोई कामयाबी नहीं मिली है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.