दिल्ली सरकार दे सकती है महिला यात्रियों को बड़ा तोहफा , बसों में मुफ्त यात्रा की सौगात देने पर किया जा रहा है गम्भीर विचार

ROHIT SHARMA /JITENDER PAL- TEN NEWS

0 133

(29/05/2019)  दिल्ली सरकार महिला यात्रियों को एक बड़ा तोहफा दे सकती है। जी हाँ दिल्ली सरकार महिलाओं को बारह महीने बसों में मुफ्त यात्रा की सौगात देने पर गंभीरता से विचार कर रही है। आपको बता दे महिलाओं को यह सुविधा डीटीसी और कलस्टर दोनों तरह की बसों में मिलेगी। इसके लिए महिलाओं को मुफ्त बस पास जारी करने की प्लॉनिंग पर सरकार काम कर रही है।

वही इस मामले में दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने परिवहन विभाग, डीटीसी व डिम्ट्स के आला अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और परिवहन विभाग से जुड़ी विभिन्न परियोजनाओं पर तेजी से काम करने के निर्देश दिए



वही इस मामले में दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने परिवहन विभाग, डीटीसी व डिम्ट्स के आला अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और परिवहन विभाग से जुड़ी विभिन्न परियोजनाओं पर तेजी से काम करने के निर्देश दिए

इसी दौरान परिवहन मंत्री ने डीटीसी को महिलाओं को बसों में मुफ्त यात्रा की सुविधा देने का प्रस्ताव बनाकर लाने को कहा है। वहीं, 21 आयु वर्ग तक के छात्र-छात्राओं को भी बसों में मुफ्त यात्रा की सौगात देने का प्रस्ताव बनाकर लाने के भी निर्देश दिए गए हैं।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बसों का इस्तेमाल रोजाना जितने लोग करते हैं, उसमें महिलाओं की संख्या 33 प्रतिशत होती है। इस तरह रोजाना 33 प्रतिशत महिलाओं को बसों में मुफ्त यात्रा की सुविधा का लाभ मिल सकेगा।

परिवहन मंत्री ने डीटीसी को इस पर विस्तृत प्रस्ताव बनाकर लाने को कहा है, ताकि यह मालूम हो सके कि इस मद में सरकार को कितनी धनराशि जारी करने की जरूरत पड़ेगी। वहीं,डीटीसी के अधिकारियों ने बैठक के दौरान बताया कि डीटीसी भी अपने बेड़े में एक हजार इलेक्ट्रिक बसें लाने की दिशा में तेजी से काम कर रही है।

डीटीसी की इन बसों के लिए केंद्र सरकार की ओर से दी जाने वाली सहायता धनराशि का भी इस्तेमाल होगा। यह बसें उस एक हजार इलेक्ट्रिक बसों से अलग हैं,जिस पर डिम्ट्स ने काम करते हुए टेंडर जारी कर दिया है। लेकिन डिम्ट्स जिन इलेक्ट्रिक बसों पर काम कर रहा है,उसकी चॉर्जिंग को लेकर कुछ दिक्कतें खड़ी हो गई हैं। इसके लिए 66 केवी के बिजली कनैक्शन की जरूरत पड़ेगी,लेकिन फिलहाल बिजली कम्पनियों ने 11 केवी का बिजली कनैक्शन दे पाने की सहमति दी है। इलेक्ट्रिक बसों के लिए करीब आधा दर्जन डिपो बनकर तैयार हो गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.