मनीष सिसोदिया का बयान , दिल्ली के अस्पतालों के 20% बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित करने का दिया आदेश

Rohit Sharma

0 81

नई दिल्ली :– दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोरोना एक वैश्विक महामारी है और हम इसे गंभीरता से ले रहे हैं। हमारा किसी राज्य से कोई मुकाबला नहीं है। सभी को साथ मिलकर इससे लड़ना होगा।

उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का मानना है कि हमें लोगों की जान बचानी है और उसी के लिए हम प्रयासरत हैं।

दिल्ली सरकार का पूरा ध्यान लोगों की जान बचाने तथा अस्पताल की जरूरत वाले कोविड-19 के मरीजों के लिए समुचित सुविधाएं मुहैया कराने पर है।

हमने 5 सरकारी अस्पताल और 3 प्राइवेट अस्पतालों को पूरी तरह कोरोना मरीजों के इलाज के लिए रखा है। बाकी अस्पतालों के 20% बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित करने का आदेश भी जारी कर दिया गया है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के साथ ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि कोविड-19 से पीड़ित ऐसे लोग घर पर ही रहें जिनमें संक्रमण के लक्षण नहीं हैं और अपने आप को आइसोलेशन में रखें।

सत्येंद्र जैन ने कहा कि 61 निजी अस्पतालों में 20 प्रतिशत बेड आरक्षित करने के लिए एक आदेश जारी किया गया है। सिसोदिया ने कहा कि हमारे पास कोविड-19 समर्पित सुविधाएं हैं। तीन और निजी अस्पताल बुधवार को जुड़े हैं।

कुछ अस्पतालों को (20 प्रतिशत बेड आरक्षित करने में) दिक्कतें आ रही हैं। जिन्हें दिक्कत आ रही है उन्हें पूरी तरह से कोविड अस्पताल में बदल दिया जाएगा। दिल्ली में कल संक्रमण के 1359 मामले सामने आने पर संक्रमित लोगों की संख्या 25,000 से ज्यादा हो गई और मृतकों की संख्या बढ़कर 650 हो गई।

Leave A Reply

Your email address will not be published.