- Advertisement -

किसानों का संसद जंतर मंतर पर जारी , कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन पड़ रहा है भारी , पढें पूरी खबर

Rohit Sharma

0 195

नई दिल्ली :– संसद में मानसून सत्र के बीच केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आज जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे हैं। पुलिस ने मध्य दिल्ली के चारों ओर सुरक्षा बढ़ा दी है और वाहनों की आवजाही पर कड़ी नजर रखी जा रही है।

आपको बता दें कि दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने अधिकतम 200 किसानों को नौ अगस्त तक जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करने की अनुमति दे दी है। संसद भवन इससे कुछ ही मीटर की दूरी पर है।

प्रदर्शन के दौरान योगेंद्र यादव ने कहा कि किसान जंतर-मंतर पर सरकार को यह दिखाने के लिए आए हैं कि वे मूर्ख नहीं हैं, ब्रिटेन की संसद हमारे मुद्दों पर बहस कर रही है, लेकिन हमारी सरकार नहीं।

जंतर-मंतर पर किसानों की नारेबाजी और सरकार से तीनों कानून रद्द करने की मांग जारी है। प्रदर्शन कर रहे किसान जंतर-मंतर के एक छोटे से हिस्से में मौजूद हैं और पुलिस ने दोनों ओर अवरोधक लगा रखे हैं।

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि अगर सांसद किसानों के हक में संसद के भीतर आवाज नहीं उठाते तो चाहे वह किसी भी दल के हों, उनके क्षेत्र में उनका पुरजोर विरोध होगा।

मोल्लाह ने कहा कि ‘आज 3 कानूनों के पहले कानून APMC पर चर्चा हुई। इसके बाद हम कानून को संसद में खारिज करेंगे और संसद से अपील करेंगे कि ‘किसान संसद’ की बात मानकर कानून खारिज करे।’

राकेश टिकैत ने कहा कि हमारा संघर्ष पिछले आठ महीने से चल रहा है, हम शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बातों को सरकार के सामने रखना चाहते हैं। किसान नेता ने कहा कि जबतक संसद का सत्र चलेगा, हम लोग जंतर-मंतर पर ही अपनी किसान संसद चलाएंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.