GAUTAM BUDH NAGAR DISTRICT MAGISTRATE’S OFFICE – PRESS RELEASE-16/11/13

0 204

उत्तर प्रदेष राजस्व परिषद बोर्ड के अध्यक्ष अजय कुमार

जोषी ने जनपद के राजस्व विभाग के समस्त अधिकारियों को

निर्देष देते हुये कहा कि सभी अधिकारी गणों द्वारा

अपने अपने न्यायालय में वादों का रख-रखाव षासन की

मंषा के अनुरूप पूर्ण रूप से कम्प्यूटराज्ड रखा जाये ताकि

सभी वादी एवं प्रतिवादी अपने वादों के सम्बन्ध में

पूरी जानकारी इन्टरनेट के माध्यम से प्राप्त कर सकें।

उन्हांेने यह भी कहा कि अब मुख्यालय पर ही इस योजना

में पूरे प्रदेष की प्रत्येक न्यायालय की समीक्षा सीधे की जा

सकेगी।

श्री जोषी जिलाधिकारी कक्ष में एक महत्वपूर्ण बैठक

की अध्यक्षता करते हुये अधिकारियों को आवष्यक दिषा

निर्देष दे रहे थे। उन्होंनें कहा कि राजस्व परिषद

बोर्ड की यह एक बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना है और

इस योजना के तहत वादी प्रतिवादी को एस एम एस के माध्यम से

वादों की तारीख की जानकारी घर बैठे ही उपलब्ध

करायी जायेगी।

उन्होंने कहा कि अतिषीघ्र माननीय मुख्य मंत्री

उत्तर प्रदेष सरकार इस योजना का पूरे प्रदेष में उद्घ्

ााटन करेंगे अतः सभी पीठासीन अधिकारी एक सप्ताह की अवध्
ि
ा के दौरान अपने अपने न्यायालय के सभी वादों को

अपलोड कराने के उपरान्त पीठासीन अधिकारी द्वारा अपना

प्रमाण पत्र अपलोड करा दिया जाये। इस कार्य के लिये

उन्होंने जनपद के सभी पीठासीन अधिकारियों एवं

न्यायालय के पेषगारों का एक प्रषिक्षण भी करने के

आदेष सम्बन्धित अधिकारियों को दिये, ताकि यह कार्य एक

सप्ताह के भीतर गुणवत्तापरक रूप से पूरा किया जा सकें।

श्री जोषी ने यह भी आगाह किया कि एक सप्ताह के बाद

जिस अधिकारी के न्यायालय में यह कार्य पूर्ण नहीं पाया

जायेगा उसके विरूद्ध अनषासनात्मक कार्यवाही बोर्ड स्तर

पर की जायेगी। इस योजना में 107/16 के केष अपलोड

नहीं किये जायेगे अन्य सभी प्रकृति के वादों को

अपलोड किया जायेगा। उन्होंने पाया कि जनपद में राजस्व

विभाग में 17 न्यायालयों में यह कार्य किया जाना है श्री

जोषी ने समीक्षा के दौरान पाया कि कुछ न्यायालयों में

कार्य पूर्ण कर लिया गया है।

अध्यक्ष राजस्व परिषद ने जनपद में खतौनियों के

रख-रखाव की समीक्षा करते हुये अधिकारियों को

दिषा निर्देष दिये कि राजस्व विभाग का यह एक बहुत ही

महत्वपूर्ण कार्य है अतः अधिकारियों के द्वारा इसमें

गम्भीरता के कार्यवाही की जाये और बोर्ड की जो

नियमावली है उसके अनुरूप सम्पूर्ण खतौनियों का रिकार्ड

रोस्टर के अनुसार रखा जाये उन्होंने आगाह किया कि

लेखपालों के द्वारा जो चिट चष्पा की जाती है अन्य जिलों

में संज्ञान में आया है कि उनके माध्यम से उनपर हस्ताक्षर

नहीं किये गये है अतः इस कार्य में षिथिलता न बरती

जाये और सभी चष्पा चिटों पर अधिकृत हस्ताक्षर सुनिष्चित अध्
ि
ाकारियों के माध्यम से कराये जायें।

उन्होंने ई-डिस्ट्रिक्ट एवं ई-गर्वनेन्स योजना

की समीक्षा करते हुये कहा कि जनपद में जो 6

लोकवाणी एवं 62 कोमन सर्विस सेन्टर संचालित है उनपर

नियमानुसार निर्धारित मानकों के अनुसार आम नागरिकों

को प्रमाण पत्र निर्धारित अवधि के दौरान उपलब्ध कराये

जाये और अधिकारियों द्वारा निरन्तर रूप से इस कार्य की समीक्षा

अपने स्तर पर की जाये ताकि सरकार इस योजना का पूर्ण लाभ

नागरिकों को प्राप्त हो सकें।

अपर जिलाधिकारी वि/रा भगवान सिंह ने इस मौके पर

राजस्व विभाग में स्टाफ स्वीकृत पदों के विपरीत बहुत ही

कम होने की जानकारी अध्यक्ष राजस्व परिषद को दी इस सम्बन्ध्

ा में उन्होंने आष्वस्त किया कि उनके माध्यम से इस दिषा

में कार्यवाही की जायेगी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रषा0

संजय चैहान, सभी उपजिलाधिकारी गण मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.