मनीष सिसोदिया को मानहानि का नोटिस , दिल्‍ली सरकार और एमसीडी में बकाए को लेकर घमासान, तीनों मेयरों ने दिया जवाब

ROHIT SHARMA

0 101

नई दिल्ली :– नगर निगम कर्मचारियों और डॉक्टरों के लंबित वेतन के मुद्दे पर दिल्ली सरकार और बीजेपी शासित दिल्ली के तीनों नगर निगम आमने-सामने हैं।

 

 

 

हाल ही में दिल्‍ली के उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 13500 करोड़ रुपये के बकाए को लेकर एमसीडी को पत्र लिखा था. जबकि आज तीनों मेयर जयप्रकाश (उत्तरी दिल्ली), अनामिका (दक्षिणी दिल्ली) और निर्मल जैन (पूर्वी दिल्ली) ने जवाब दिया है।

 

 

 

इसके अलावा पॉपर्टी टेक्‍स कमेटी के चेयरमैन कप्‍तान रविंदर ने नगर निगम को भ्रष्‍ट कहने पर मनीष सिसोदिया को मानहानि का नोटिस सर्व किया है।

 

 

 

नगर निगम की तरफ से कहा गया है कि एक ओर जल बोर्ड केंद्र सरकार से बकाए की मांग कर रहे हैं, तो दूसरी ओर निगम ने दिल्ली सरकार के सारे काम मुफ़्त में किए हैं।

 

 

 

 

 

साथ ही कहा कि जबसे हमने 13500 करोड़ का मुद्दा उठाया है, तब से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्‍यमंत्री सिसोदिया बौखला गए हैं. यही नहीं, जल बोर्ड पहले फायदे में था, लेकिन अब गर्त में है. इन्होंने जल बोर्ड को लोन दिया, लेकिन किस लिए ?

 

 

 

दिल्‍ली भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष आदेश गुप्‍ता ने आज वायु प्रदूषण को लेकर भी केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा कि 26 वादे किए थे, लेकिन एक भी वादा पूरा नहीं किया। स्मॉग टॉवर लगाना था , इलेक्ट्रिक बस लानी थी और सीवेज प्‍लांट्स लगाने थे, लेकिन कुछ भी नहीं किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.