बिजली पानी संकट के खिलाफ दिल्ली भाजपा का धरना, मनोज तिवारी ने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ दी गिरफ़्तारी

ROHIT SHARMA

0 157

नई दिल्ली :– दिल्ली में चल रहे बिजली-पानी संकट और केजरीवाल सरकार के भ्रष्टाचार एवं निगम विरोधी रवैये के खिलाफ दिल्ली भाजपा कार्यकर्ताओं ने आज अध्यक्ष मनोज तिवारी के नेतृत्व में मुख्यमंत्री आवास के निकट ट्रामा सेन्टर पर धरना दिया। धरने के पश्चात मनोज तिवारी के नेतृत्व में उपस्थित लगभग 2000 कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के आवास के घेराव के लिये मार्च प्रारम्भ किया, पर भारी बल एवं वाटर कैनन का प्रयोग कर दिल्ली पुलिस ने उन्हे मुख्यमंत्री आवास से पहले रोक कर हिरासत में ले लिया। मनोज तिवारी एवं प्रमुख पदाधिकारियों सहित लगभग 300 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर पुलिस मौरिस नगर के विशेष थाने ले गई और शेष को चेतावनी दे कर छोड़ दिया। गिरफ्तार किये लगभग 300 कार्यकर्ताओं को भी लगभग 2 घंटे बाद चेतावनी दे कर छोड़ा गया।

धरने पर बैठे कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुऐ प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में आज एक ऐसी गूंगी-बहरी, अंधी सरकार है जो समस्याओं से जूझ रही दिल्ली की जनता के प्रति संवेदनहीन है। ऐसी दिल्ली की सरकार के मुख्यमंत्री केजरीवाल आज खुद दिल्ली के लिए एक बड़ी समस्या बन गए हैं। किसी समस्या का समाधान करना उनकी आदत का भाग नहीं है बल्कि हर समस्या पर राजनीतिक स्वार्थ पूर्ति के लिए हंगामा खड़ा करना उनका स्वभाव बन गया है।

मनोज तिवारी ने कहा कि मौजूदा दिल्ली की केजरीवाल सरकार इतिहास की इकलौती ऐसी सरकार है जिसके राज में एक बोतल पानी की कीमत इंसान की जिंदगी से ज्यादा है। केजरीवाल सरकार के शासन में नक्सलवाद अराजकता एवं असंवैधानिक प्रवृति की झलक साफ दिखती है जो दिल्ली को देश और दुनिया के सामने शर्मसार कर रही है। दिल्ली की जनता केजरीवाल सरकार को पूरी तरह नकार चुकी है क्योंकि केजरीवाल सरकार दिल्ली को बिजली, पानी, स्वास्थ्य, परिवहन एवं पारदर्शी शासन व्यवस्था देने में नाकाम रही है और अब इस भ्रष्ट, अराजक और संवेदनहीन सरकार का अंत जरूरी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.