नोएडा : सेक्टर 44 की झुग्गियों में गंदगी का आलम, दिनदहाड़े काटे जाते हैं सूअर, निवासियों का रहना हुआ दुश्वार

ABHISHEK SHARMA

0 195

NOIDA (11/09/20) : नोएडा के सेक्टर 44 में निवासियों को गंदगी एवं झोपड़ी झचग्गियों से काफी दिक्कतों का सामना करना पड रहा है। सेक्टर 44 में बनी सोसाइटी के बराबर में करीब डेढ़ सौ झुग्गियां हैं। यहां रहने वाले लोगों ने सूअर पाल रखे हैं, जिसके चलते चारो तरफ गंदगी का आलम बना हुआ है।

वहीं झुग्गियों के बराबर में नोएडा प्राधिकरण का खाली प्लॉट है जिसमें झुग्गी से निकलने वाला गंदा पानी जमा हो गया है, जिससे बदबू उठती है और बीमारियां फैलने का खतरा बना हुआ है। कई बार इसकी शिकायत नोएडा प्राधिकरण में भी की गई। लेकिन इस पर अब तक कोई भी कार्यवाही नहीं हुई है।

सेक्टर 44 स्थित ओमैक्स राॅयल रेजिडेंसी के निवासी एवं सुप्रीम कोर्ट के डिप्टी रजिस्ट्रार (रि.) के.एम. कपूर का कहना है कि हमारी सोसाइटी के गेट नंबर 1 के सामने झुग्गियां बसी हुई हैं। यहां लगभग 500 लोग रह रहे हैं। झुग्गी के लोगों ने आसपास में माहौल खराब कर रखा है।

उनका कहना है कि झुग्गी में रहने वाले लोगों ने सूअर पाल रखे हैं और रोजाना सूअरों को काट कर खाते हैं। जिससे सोसायटी में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति को परेशानी होती है। वही उनका कहना है कि झुग्गी में रहने वाले लोगों के लिए कोई भी सिस्टम नहीं बना हुआ है।

जिस पानी का वे इस्तेमाल करते हैं, वह बहकर नोएडा प्राधिकरण के खाली पड़े प्लॉट में जमा हो रहा है और यहां से बहुत गंदी बदबू आती है, इससे कई बीमारियां फैलने का डर बना हुआ है। और तो और इसी पानी को ही गाय भी पीती है।

उन्होंने कहा कि इस संबंध में नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों से भी शिकायत की गई, लेकिन स्थिति ज्यों की त्यों बनी हुई है।

के.एम. कपूर का कहना है कि इस समस्या पर प्राधिकरण को जल्द से जल्द कोई कदम उठाना होगा, अन्यथा कोरोना के साथ-साथ यहां कई और बीमारियां फैलने की आशंका है। ऐसी गंदगी में लोग घरों से बाहर निकलना पसंद नहीं करते हैं। गंदगी के साथ-साथ लोग सरेआम सूअरों को काटते हैं। इस अमानवीय कृत्य को जल्द से जल्द रोकना होगा।

हालांकि जब इस संबंध में नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों का पक्ष जानना चाहा, तो उन्होंने संवाददाता के फोन और मैसेज का कोई जवाब नहीं दिया। अब देखने वाली बात यह होगी कि इस खबर का संज्ञान लेकर प्राधिकरण के अधिकारी क्या कार्रवाई करते हैं?

Leave A Reply

Your email address will not be published.