कृषि कानून को लेकर केंद्र और किसान प्रतिनिधियों के बीच बड़ी बैठक , किसानों ने दी चेतावनी , माँगे पूरी नही हुई तो होगा विशाल प्रदर्शन

ROHIT SHARMA

0 66

नई दिल्ली :– केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के साथ आज केंद्र सरकार के मंत्रियों का समूह ने मुलाकात की। वही इस बैठक में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर व रेल मंत्री पीयूष गोयल इस मीटिंग में रहे।

 

 

आपको बता दें कि यह बैठक दिल्ली के विज्ञान भवन में की जा रही है । इस बैठक में किसान यूनियन के 30 वरिष्ठ प्रतिनिधि शामिल हुए । वही किसानों के प्रतिनिधियों का कहना है कि अगर हमारी माँगे नही मानी जाती तो 26 नवंबर को पंजाब समेत पूरे देश मे विशाल प्रदर्शन होगा । जिसकी जिम्मेदारी केंद्र सरकार की होगी ।

 

खासबात यह है कि मोदी ने राजनाथ सिंह को पूर्वकृषि मंत्री होने के साथ ही किसानों का सर्वाधिक भरोसेमंद होने की वजह से इस मीटिंग की जिम्‍मेदारी दी गई है। जिसको लेकर कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन कर रहे किसान संगठनों को केंद्र सरकार ने औपचारिक बातचीत का आज न्योता दिया था।

 

 

केंद्र सरकार की ओर से इस सिलसिले में तीसरा पत्र भेजा गया जिसमें 29 किसान संगठनों को आमंत्रित किया गया है। बताया जाता है कि राजनाथ सिंह के वार्ता में शामिल होने का आश्‍वासन मिलने के बाद किसान संगठनों ने बैठक में शामिल होने की सहमति दी है ।

 

 

वही किसानों की तरफ से आए प्रतिनिधियों ने कहा कि आज बैठक में फैसला होगा कि सरकार किसानों की माँग को पूरा कर रहा है , यह फिर किसानों के विरोध में है । आज हर मुद्दे पर बातचीत की जाएगी , जिससे किसान परेशान है । अगर मांगों पर सहमति नही बनी तो किसान 26 नवंबर को विशाल प्रदर्शन करेगा , जिसकी जिम्मेदारी केंद्र की होगी ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.