दिल्ली के सभी अस्पतालों में होगा रैपिड एंटीजन टेस्ट, केजरीवाल सरकार ने दिए आदेश

Rohit Sharma

0 85

नई दिल्ली :– दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने अपने सभी हेल्थ केअर फैसिलिटीज जैसे हॉस्पिटल आदि में अनिवार्य रैपिड एंटीजन टेस्ट के आदेश दिए हैं।

दिल्ली में लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए केजरीवाल सरकार ने यह फैसला लिया गया है. पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में कोरोना टेस्ट की रफ्तार तेज कर दी गई है।

इससे पहले सरकार ने कोरोना टेस्टिंग स्पीड बढ़ाने के लिए हर जिले में 7 एंटीजन टेस्ट सेंटर बढ़ाने का निर्देश भी जिलाधिकारियों को दिया था. वहीं, दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा एक लाख के करीब पहुंच रहा है।

किन लोगों के किए जाएंगे रैपिड एंटीजन टेस्ट

1. सभी मरीज जिनको आईएलआई यानी इन्फ्लुएंजा लाइक इलनेस जैसे लक्षण हैं ।

2. ऐसे सभी एडमिट मरीज जिनको SARI यानी Severe Acute Respiratory Illness है.

3. ऐसे सभी बिना लक्षण वाले मरीज़ जो एडमिट हैं या एडमिशन मांग रहे हैं. इनमें ये मरीज शामिल हैं…

A. कीमोथेरेपी कराने वाले मरीज.

B. HIV पॉजिटिव मरीज.

C. ट्रांसप्लांट वाले मरीज.

D. 65 साल से ऊपर के मरीज जिनको पुरानी गंभीर बीमारी है.

दिल्ली सरकार के सभी अस्पतालों के मेडिकल डायरेक्टर, मेडिकल सुपरिटेंडेंट और डायरेक्टर को निर्देश दिया गया है कि वो अपने यहां इस श्रेणी में आने वाले सभी मरीजों का अनिवार्य रूप से रैपिड एंटीजन टेस्ट कराएं ।

आपको बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के संकट को चार महीने पूरे हो चुके हैं. लॉकडाउन से अनलॉक के सिलसिले में दिल्ली ने कोरोना से बिगड़ते हालात भी देखे. हालांकि इन 4 महीनों में भले कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा एक लाख के नजदीक पहुंच गया है, लेकिन पिछले कुछ हफ्तों में रिकवरी रेट और संक्रमण दर में आई गिरावट ने राहत की तरफ इशारा जरूर किया है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.