ग्रेटर नोएडा : गलवान घाटी पर हिंसा के चलते चीनी नागरिकों एवं कंपनियों की सुरक्षा बढाई*

Abhishek Sharma

0 221

ग्रेटर नोएडा : भारत-चीन सीमा पर भारतीय सैनिकों की शहादत के बाद बढ़ते तनाव और लोगों के आक्रोश के मद्देनजर चीन की कंपनी और नागरिकों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। जिला गौतमबुद्धनगर स्थित चीन की कंपनी और नागरिकों की सोसाइटी में पुलिस बल तैनात किया गया है।

वहीं, आलाधिकारियों के निर्देश पर खुफिया विभाग भी अलर्ट हो गया है। सीमा पर 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद से देशभर में चीन के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है। जिले में जगह-जगह विरोध-प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

चीन के उत्पादों के बहिष्कार करने की पोस्ट सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही है। ऐसे में जिले में चीन की कंपनी और नागरिकों की सुरक्षा को लेकर आलाधिकारियों ने अलर्ट जारी किया है।

इसके बाद से स्थानीय पुलिस ने ओप्पो और वीवो आदि कंपनियों के अलावा एटीएस पैराडिसो आदि सोसाइटी पर पुलिस बल तैनात कर दिया है। पुलिस को आशंका है कि चीन के खिलाफ पनप रहे आक्रोश के दौरान कोई चीन के नागरिकों व उनकी संपत्ति को निशाना न बना दें।

हाल ही में बीटा-2 थानाक्षेत्र स्थित एटीएस पैराडिसो सोसाइटी में चीन के नागरिकों से विवाद के 4 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें तीन मामलों में केस भी दर्ज किए गए।

सबसे पहले सोसाइटी में चीन के नागरिकों ने खुद को फ्लैट में बंद कर लिया। आरोप था कि कुछ लोगों ने उनके कोरोना संक्रमित होने की अफवाह फैलाई थी। इसके बाद चीन के 8 नागरिकों को सोसाइटी गेट पर पौन घंटे खड़ा रखा गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.