राज्यसभा सांसद सुरेन्द्र नागर ने डंपिंग ग्राउंड को लेकर प्रदेश सरकार को घेरा, अखिलेश राज में राहत देने का वादा

50

नोयडा :डंपिंग ग्राउंड के मामले पर अब पूरी तरह से राजनीतिकरण हो चुका है । अब सपा पार्टी के राज्यसभा सांसद सुरेंद्र नागर ने नोएडा प्राधिकरण को सवालों के घेरे में लाकर खड़ा कर दिया है । आज प्रेसवार्ता के दौरान सुरेंद्र नागर ने डंपिंग ग्राउंड मामले पर प्राधिकरण के ऊपर सवाल खड़े कर दिए । कहा प्रदेश सरकार व प्राधिकरण मिलकर ओछी राजनीति कर रहे है और जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे है ।

नोएडा प्राधिकरण ने निजी संस्था को लाभ पहुचने के लिए कोर्ट व एनजीटी को गलत रिपोर्ट देकर गुमराह किया है । जो डंपिंग ग्राउंड अस्ततोली गांव बनने के लिए सेंशन हो चुका है , और वहाँ पर जगह निर्धारित कर बाउंड्री बन चुकी है । तो अब एनजीटी व कोर्ट को गलत रिपोर्ट पेश करके डम्पिंग ग्राउंड को शहर की आबादी के बीचों बीच सेक्टर 123 में क्यो सेंशन करा दिया । ऐसा करके प्राधिकरण किसको लाभ देने की कोशिश कर रहा है । ये जांच का विषय है । जब प्रदेश में अखलेश यादव की सरकार थी , तब ये डम्पिंग ग्राउंड का मुद्दा उठा था , और तब की प्रदेश सरकार ने डम्पिंग ग्राउंड को 138 स्थित अस्ततोली गांव के पास सेंशन कर दिया था । जिनके सारे सबूत हमारे पास है । अब ये मसला गंभीर हो चुका है प्राधिकरण के एनजीटी व कोर्ट को गुमराह करने वाले मामले को कोर्ट लेकर जायेगे। और इसको हम संसद में भी उठाएंगे । हम प्रदेश व नोएडा प्राधिकरण की मिलीभगत को जनता को बताएंगे । और अगर प्रदेश सरकार व प्राधिकरण अपनी मनमानी करते है । डम्पिंग ग्राउंड सेक्टर 123 में जबरदस्ती यही बनता है । ये जनता से वादा करते है , 2022 में बनने वाली अखलेश यादव की सरकार में इसको यहाँ से उठाकर 138 के अस्ततोली में ले जाएंगे । जहाँ पर इसका पहले सेंशन हुआ था । ये हमारा अनशन डपिंग ग्राउंड के विरोध में जारी रहेगा ।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.