दिल्ली में बेचते थे नकली नमक, टाटा कंपनी के पैकेट में होती थी पैकिंग , दो गिरफ्तार

ROHIT SHARMA

0 74

नई दिल्ली :– महानगरों से लेकर गांवों तक के बाजार में नकली सामानों की बिक्री के लिए इतना बड़ा गिरोह काम कर रहा है जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते हैं। सब्जी और फल से लेकर नमक, चीनी जैसे सामानों तक, आपकी थाली में कौन सी चीज असली है और कौन सी नकली इसका अनुमान लगा पाना मुश्किल है।

विश्वसनीय और बड़ी कंपनियों के पैकेट में बिकने वाले नकली सामान आपके शरीर को अंदर ही अंदर नुकसान पहुंचा रहे होते हैं और आपको इसकी जानकारी भी नहीं होती। ताजा मामला दिल्ली में सामने आया है, जहां पुलिस ने घटिया नकली नमक बनाने वाली फैक्टरी का भंडाफोड़ किया है।

बाहरी उत्तरी जिले की डीआईयू सेल ने बवाना इलाके में चल रही घटिया नमक भरने की फैक्टरी का भंडाफोड़ किया है। इस मामले में एक दुकानदार और पैकिंग फैक्टरी के कर्मचारी को गिरफ्तार किया गया है।

इनके कब्जे से पुलिस ने 3000 किलोग्राम घटिया नमक, टाटा नमक के 2200 खाली पैकेट और पैकिंग का सामान जब्त किया गया है। इस धंधे का सरगना बताया गया रिंकू फरार है।

यह कंपनी घटिया स्तर के नमक बनाकर उसे नामी कंपनी के पैकेट में भरकर बेचने का काम करती थी। जिला पुलिस उपायुक्त गौरव शर्मा के मुताबिक, शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी गुजरात से एक रुपये प्रति किलोग्राम नमक लाते थे। इसके बाद फैक्टरी में उसे नामी कंपनी के पैकेट में पैक कर दुकानदारों को छह रुपये में बेच देते थे। इसे दुकानदार 20 रुपये में बेचता था।

गिरफ्तार आरोपी सूरजमल और गोविंद हैं। धंधे में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। डीआईयू विभाग में टाटा नमक कंपनी ने नकली नमक बेचे जाने की शिकायत की थी। इसमें शाहबाद डेयरी के प्रह्लादपुर बांगर इलाके में एक दुकानदार को सेहत के लिए हानिकारक नमक बेचने का आरोपी बताया गया था।

एसीपी दिनेश शर्मा के नेतृत्व में पुलिस ने सूरजमल की दुकान पर छापा मारा तो भारी मात्रा में घटिया नमक बरामद हुआ। सूरजमल ने बताया कि वह बवाना की जैन कॉलोनी में गोविंद से नमक लेता है। इसके बाद फैक्टरी पर छापा मारकर गोविंद को गिरफ्तार किया गया। रिंकू कई बार नकली सामान बेचने के आरोप में गिरफ्तार हो चुका है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.