- Advertisement -

बुखार के चलते 3 बच्चों की मौत, सरकार अधिकृत दो लैब में नही हुई डेंगू की पुष्टि

Ten News Network

0 266

Noida: नोएडा में इस सप्ताह डेंगू जैसे लक्षणों के साथ तीन बच्चों की मौत हो गई है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग द्वारा उन्हें टैली में नहीं जोड़ा गया है क्योंकि सरकार द्वारा अधिकृत दो लैब में उन बच्चों के सेम्पल की पुष्टि नहीं हुई है।

गुरुवार को डेंगू के नौ नए मामले सामने आए। इस बीच, कुल मामलों की संख्या 387 तक पहुंच गई है। डेंगू जैसे लक्षणों से मरने वाले तीन मरीजों में से एक को ईएसआईसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जबकि दो अन्य निजी अस्पतालों में थे। बुधवार को ईएसआईसी अस्पताल में पांच साल की बच्ची की मौत हो गई और सूत्रों ने बताया कि उसे बुखार, ठंड लगना, सुस्ती और उल्टी जैसे लक्षण थे। उसका विडाल परीक्षण सकारात्मक था और प्रवेश के समय प्लेटलेट की गिनती 37,000 थी। अस्पताल की रिपोर्ट में कहा गया है कि कार्डियोपल्मोनरी अरेस्ट से उसकी मौत हुई है।

स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू से किसी भी तरह के संबंध से इनकार किया है। जिला मलेरिया अधिकारी राजेश शर्मा ने कहा अस्पताल लाए जाने पर बच्ची की हालत गंभीर थी। डेंगू की जांच होने से पहले ही उसकी मौत हो गई और अस्पताल में उसका प्लेटलेट काउंट 64,000 था। ऐसे में इसकी पुष्टि डेंगू से संबंधित मौत के रूप में नहीं की जा सकती।

और दो अन्य मामलों में भी मरीज बच्चे थे और समान लक्षणों से ग्रस्त थे, हालांकि, दोनों बच्चों के नमूने जिला अस्पताल और बाल पीजीआई में दो अधिकृत लैब में नहीं भेजे गए थे। दिन ब दिन बढ़ते मामलों के चलते स्वास्थ्य विभाग ने नोएडा में कम से कम 10 क्षेत्रों और ग्रेटर नोएडा में आठ क्षेत्रों को चुना है जहां सबसे अधिक डेंगू के मामले सामने आए हैं। इन क्षेत्रों में डेंगू पर नियंत्रण पाने के लिए सफाई अभियान चलाया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.