आप पार्टी के नेता राघव चड्ढा ने दिल्ली में कोविड-19 को लेकर जागरूकता फैलाने वाले मेडिकल कैंप का किया उद्घाटन

ROHIT SHARMA

0 181

नई दिल्ली :– राजेन्द्र नगर के विधायक राघव चड्ढा ने बुद्ध महासभा, बुद्धनगर, इंद्रपुरी में कोविड-19 को लेकर जागरूकता फैलाने वाले मेडिकल कैंप का उद्घाटन किया। इस शिविर का आयोजन ‘डॉक्टर्स फॉर यू’ नाम के एक एनजीओ के साथ मिलकर किया गया , ये एनजीओ मेडिकल केयर और पब्लिक हेल्थ से जुड़ी सेवाएं देता है।

 

 

2 घंटे तक चले इस शिविर में राघव चड्ढा ने क्षेत्र के लोगों से बात की, उन्हें कोरोना से बचाव के लिए जागरूक किया और उन्हें समझाया कि कैसे कोविड-19 के डर को अपने ऊपर हावी नहीं होने देना है।

 

 

राघव चड्ढा ने कहा कि “हम सभी को ये समझना होगा कि कोविड-19 अभी खत्म नहीं हुआ है, सुरक्षित और सही वैक्सीन के आने में अभी थोड़ा और समय लग सकता है। हालांकि हम इस बीमारी के जाल में फंसने से बच सकते हैं। मुझे ये देखकर खुशी हो रही है कि ‘डॉक्टर्स फॉर यू’ जैसी संस्था हमें इस बारे में प्रशिक्षित कर रही हैं कि कैसे एक अच्छा मास्क बनाना है और कैसे कोरोना से अपना बचाव करना है।”

 

 

इस शिविर में एक ट्रेनिंग सेशन का भी आयोजन किया गया था जिसमें आमलोगों को 3-लेयर वाले, धुलने योग्य और दोबारा प्रयोग में आने वाले मास्क बनाने का प्रशिक्षण दिया गया। मास्क बनाने के लिए लोगों को सामग्री जैसे कि सूती कपड़े और पॉलीप्रोपिलिन भी मुहैया की गई। शिविर में विधायक राघव चड्ढा भी अपने लिए फेस-मास्क बनाते हुए दिखे।

 

 

 

राघव चड्ढा ने कहा कि “अगर हम अपना ख्याल खुद रखेंगे तभी जाकर हम दूसरों के बारे में भी सोच पाएंगे। मुझे पता कि कई लोग अब घर पर ही मास्क बना रहे हैं जो कि अच्छा भी है लेकिन इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि सही तरीके और सही सामग्री के साथ बनाया मास्क ही हमारी मदद कर सकता है। जो सामग्री हम शिविर में मुहैया करा रहे हैं वो सही मास्क बनाने में काम आएगी। इसके साथ हमें स्वच्छता का भी पूरा ध्यान रखना होगा और नियमित अंतराल पर अपने हाथ साबुन से धोते रहना होगा। जहां साबुन पानी से हाथ धुलने की व्यवस्था ना हो वहां सैनिटाइजर का उपयोग करना आवश्यक है।

 

 

शिविर में आमलोगों को डॉक्टरों ने प्रशिक्षण दिया और साथ ही आशा और आंगनवाड़ी कर्मियों को भी 3 घंटे के ट्रेनिंग सेशन में प्रजेंटेशन के जरिए ये बताया गया की होम आइसोलेशन में किन बातों का ख्याल रखना है, लोगों को कैसे जागरूक करना है इत्यादि।

 

 

 

राघव चड्ढा ने कहा कि “कभी कभी ऐसा होता है कि सभी सावधानियां रखने, मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग रखने, हाथ धुलते रहने के बावजूद कुछ लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं लेकिन इससे हमें डरने की जरूरत नहीं है। जैसे हम प्रदूषण के खिलाफ एक युद्ध लड़ रहे हैं वैसे ही हमें कोरोना के खिलाफ भी जंग लड़ना है। होम आइसोलेशन एक ऐसा तरीका है जिससे हम वायरस को और ज्यादा फैलने से रोक सकते हैं। होम आइसोलेशन के नियमों का सही से पालन करके हम कई लोगों की जिंदगी बचा सकते हैं।

 

 

 

राघव चड्ढा ने ये भी बताया कि कैसे मास्क बनाने का प्रशिक्षण लेकर लोग आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर हो सकते हैं। “घर पर मास्क बनाना महिलाओं के लिए स्व-रोजगार का एक शानदार अवसर है। शिविर में मौजूद डॉक्टर्स जब महिलाओं को मास्क बनाने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं, मुझे ये जानकारी देने में बहुत खुशी हो रही कि इस शिविर में मौजूद सभी महिलाओं के द्वारा बनाए गए मास्क को ‘डॉक्टर्स फॉर यू’ खरीदेगा और फिर इसे ले जाकर बाजार में बेचेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.