एसडीएम राजपाल सिंह ने कोरोना से जीती जंग, कैलाश अस्पताल के डॉक्टरों ने कैसे किया ईलाज, जानें

ROHIT SHARMA

0 258

ग्रेटर नोएडा :– ग्रेटर नोएडा के पूर्व एसडीएम व वर्तमान में तैनात बागपत के एसडीएम राजपाल सिंह कोरोना बीमारी को मात दे चुके है , जी हाँ करीब 1 महीने तक ग्रेटर नोएडा कैलाश अस्पताल में एसडीएम राजपाल सिंह का इलाज चला , खासबात यह है कि डॉक्टरों ने आखिरी वक्त तक उम्मीद नही छोड़ी थी , जिसकी वजह से कैलाश हॉस्पिटल के डॉक्टर ईलाज करने में सफल रहे ।

वही इस मामले में ग्रेटर नोएडा के कैलाश अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि बागपत के एसडीएम राजपाल सिंह 22 जून को ग्रेटर नोएडा के कैलाश अस्पताल में भर्ती हुए थे , उन्हें खांसी तथा सांस लेने में तकलीफ की समस्या से पिछले 1 सप्ताह से जूझ रहे थे।

डॉक्टरों ने कहा कि कोविड19 जांच कराने पर एसडीएम राजपाल सिंह पॉजिटिव पाए गए , इसके अतिरिक्त वह उच्च रक्तचाप , मधुमेह एवं थायराइड की समस्या से पहले से ही ग्रसित थे।

एसडीएम राजपाल सिंह को अस्पताल में भर्ती करते समय सांस लेने में अत्यंत परेशानी हो रही थी , हाई फ्लो द्वारा ऑक्सीजन देने पर भी सैचुरेशन मेंटेन नहीं हो पा रहा थे। जिसके बाद उन्हें 22 जून को वेंटिलेटर पर डालने का निर्णय लिया गया , जिसके बाद कोविड-19 का उपचार प्रारंभ किया गया ।

23 जून को सी.टी. स्कैन की रिपोर्ट में दोनों फेफड़ों में संक्रमण पाया गया , 24 जून को प्लाजमा थेरेपी दी गई तथा आईसीयू के वरिष्ठ चिकित्सकों , फिजीशियन, नेफोलोजिस्ट , छाती रोग विशेषज्ञ की देखरेख में इनकी दिन प्रतिदिन की चिकित्सा प्रक्रिया एवं उपचार चलता रहा ।

Baghpat District | SDM Rajpal Singh recovers from covid 19 | shares experience at Kailash Hospital Gr NOIDA

Baghpat District | SDM Rajpal Singh recovers from covid 19 | shares experience at Kailash Hospital

Posted by tennews.in on Monday, July 20, 2020

डॉक्टरों ने बताया कि 28 जून दाहिने फेफड़े में नली डाली गई , इस समय उनके बचने की संभावना मात्र 10% रह गई थी ,इसके पश्चात इंजेक्शन रेमडेसिवीर तथा इंजेक्शन टोसिलिजुमाब प्रारंभ कर दिया गया।

उसके बाद भी एसडीएम राजपाल सिंह का 29 जून को कोविड-19 टेस्ट द्वारा पॉजिटिव आया , परंतु वेंटिलेटर पर होने के बावजूद रोगी की हालत में सुधार आ रहा था तथा 15 दिन के बाद 6 जुलाई को रोगी का वेंटिलेटर हटाने में चिकित्सकों कामयाबी मिली ।

6 जुलाई को फिर कोविड-19 टेस्ट कराया गया जोकि निगेटिव आया । 6 जुलाई से 15 जुलाई तक बाईपेप मशीन पर रहे , 15 दिन वेंटिलेटर व 9 दिन बाईपेप पर रहने के बाद आज कोरोना को मात देते हुए यह सकुशल अपने घर गए।

ग्रेटर नोएडा स्थित कैलाश हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने कहा कि एम . एस डॉ नितिन श्रीवास्तव एवं आईसीयू इंचार्ज डॉक्टर आर. के सिसोदिया ,डॉक्टर प्रमिला बेथा , डॉ आकांक्षा झा का विशेष योगदान रहा , जिनके द्वारा कोरोना के खिलाफ लड़ाई सफल रही , इनके स्वास्थ्य पर लगातार कमिश्नर मेरठ मंडल अनीता मेश्राम ,डीएम बागपत शकुंतला गौतम गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास एलवाई और सीएमओ दीपक ओहरी लगातार नजर रखते रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.