दिल्ली के व्यापारियों ने की केजरीवाल सरकार से रात 9 बजे तक दुकान खोलने की मांग

Rohit Sharma

0 88

नई दिल्ली :– लॉकडाउन-5 में व्यापारियों ने शाम साढ़े 6 बजे तक दुकान खोलने के समय में और ढील देने की मांग की है। व्यापारिक संगठनों का कहना है कि गर्मी के दिनों में शाम के वक्त ही ग्राहक पहुंचते हैं। धूप ढलने के बाद ही रौनक होती है। ऐसे में यह बेहद जरूरी है कि रात तक दुकान खोलने की अनुमति मिले।

इसे लेकर व्यापारियों के संगठन की बैठक हुई, जिसमें सभी मार्केट एसोसिएशन के प्रमुख ने दिल्ली सरकार से मांग की है कि 1 जून के बाद व्यापारियों की समस्या को समझते हुए बाजार खोलने के समय बढ़ा दिया जाए।

चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआई) के नेतृत्व में सौ के करीब प्रमुख मार्केट एसोसिएशन के प्रमुख की वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक हुई। व्यापारियों का यही कहना था कि गर्मी चरम पर है। शाम ढलने के बाद ही ग्राहक घर से बाहर निकलते हैं। लॉकडाउन की वजह से पहले ही ग्राहक नहीं हैं और गर्मी उन्हें घर में ही रहने को मजबूर कर रही है।

सीटीआई के कन्वीनर बृजेश गोयल और अध्यक्ष सुभाष खंडेलवाल ने बताया कि 31 मई को लॉकडाउन-4 खत्म हो रहा है। 1 जून से नई गाइडलाइन आ जाएंगी, इसलिए दिल्ली की व्यापारी संस्थाओं से बाजार और बिजनेस संबंधित सुझाव लिए गए। 95 प्रतिशत व्यापारी संस्थाओं का कहना था कि गर्मी के मौसम में शाम के समय ही ग्राहक आते हैं इसलिए दुकानें खोलने का समय बढ़ाया जाए।

कनॉट प्लेस के मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष अतुल भार्गव, साउथ एक्स के अध्यक्ष विजय कुमार, लाजपत नगर के कुलदीप कुमार समेत अन्य व्यापारियों का कहना था कि सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक दुकान खोलने का वक्त मिला है। इसे बढ़ा कर रात 9 बजे तक करने की आवश्यकता है। इससे दुकानदार देर तक अपनी दुकानें खोल पाएगा।

व्यापारियों का ये भी सुझाव था कि सरकार चाहे तो होलसेल और रिटेल बाजारों का समय अलग-अलग कर सकती है। खुदरा बाजार में 1 जून से ऑड-ईवन के नियम को खत्म कर देना चाहिए। व्यापारियों के सुझाव को सीटीआई ने सरकार के समक्ष रखने का आश्वासन दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.