“देश पर अस्तित्व संकट और युवाओं की भूमिका” विषय पर वेदारणा फाउंडेशन की और से परिचर्चा का हुआ आयोजन

Saurabh Kumar

0 127

Geater Noida (31/3/2019) :

जनसँख्या नियंत्रण , पर्यावरण , शिक्षा और स्वास्थ जैसे गंभीर मुद्दों को लेकर वेदारणा फाउंडेशन की और से “देश पर अस्तित्व संकट और युवाओं की भूमिका ” एक परिचर्चा का आयोजन किया गया।

परिचर्चा में सुमित प्रताप सिंह क्रिकेटर, एस के सिंह प्रोफेसर गौतमबुद्ध यूनिवर्सिटी, अनिल चौधरी अध्यक्ष जनसँख्या समाधान फाउंडेशन , कमांडो सोमद सिंह , गीत शर्मा आदि कार्यक्रम के प्रमुख वक्ता के तौर पर मौजूद रहे।

परिचर्चा के विषय को समझते हुए वेदारणा फाउंडेशन के संस्थापक प्रोफसेर कुलदीप मलिक ने तमाम वक्ताओं का परिचय दिया और साथ ही बताया कि किस तरह से देश में मौजूद तमाम तरह की परेशानियों के लिए बढ़ती हुई जनसँख्या जिम्मेदार है।

उन्होने कहा की सरकार ऐसे गंभीर मुद्दे को नज़रअंदाज़ कर रही है। तो हमें इस बात को और प्रमुखता से उठाना होगा ताकि सरकार मजबूर हो जाये। उन्होंने आगे कहा की हमारे लोग हर पार्टी में मौजूद है तो चाहें जिसकी सरकार बने इस मुद्दे को नज़र अंदाज नहीं किया जा सकता। अन्यथा पार्टी के अंदर से ही जनसँख्या नियंत्रण कानून के पक्ष में आवाज़ उठेगी।



अंतररास्ट्रीय क्रिकेटर सुमित प्रताप सिंह ने कहा कि जब मुझे इस मुहीम से जुड़ने का मौका मिला मैंने तुरत हां कर दी। और अब मै अपने स्तर से लगातार प्रयास कर रहा हुं। इसी क्रम में मैंने अभी 8 हज़ार से अधिक वृक्ष लगये है। और साथी सभी से जनसँख्या नियंत्रण कानून के पक्ष में आवाज़ बुलंद करने की अपील करता हुं ।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.