नोएडा में मुठभेड़ ढाई लाख रुपये का कुख्यात इनामी बदमाश बलराज भाटी ढ़ेर

ROHIT SHARMA / ASHISH KEDIA

0 377

नोएडा :–मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में ‘खाकी’ का खौफ लगातार जारी है। ताबड़तोड़ हो रहे एनकाउंटर से अपराधियों में खौफ तो इस कदर कायम हुआ कि उनमें जमानतें निरस्त कराकर कोर्ट में सरेंडर करने की होड़ लग गई। अपराधियों में पुलिस का खौफ इस कदर व्याप्त हो गया कि वह जेल से बाहर आने में भी घबरा रहे हैं। जो अपराधी जेल के बाहर हैं वो अंडरग्राउंड हो गए हैं।

यूपी और हरियाणा एसटीएफ ने की संयुक्त कार्रवाई

ताजा मामला नोएडा के सेक्टर-49 थाना इलाके का है। यहां यूपी और हरियाणा की एसटीएफ ने संयुक्त रूप से बुलंदशहर के रहने वाले कुख्यात अपराधी बलराज भाटी को एसटीएफ के जवानों ने मार गिराया। बलराज भाटी की मौत से उसके साथियों में दहशत का माहौल व्याप्त है। एसटीएफ के अनुसार, मुठभेड़ में मारे गए बदमाश पर ढ़ाई लाख रुपये का इनाम घोषित था। बता दें कि नोएडा के एसएसपी एनकाउंटर स्पेशलिस्ट माने जाते हैं। लेकिन एसटीएफ ने ये एनकाउंटर अपने नाम करके एक बड़ा काम किया है।

बलराज के दो साथी भाग गए, कई राउंड चली गोलियां

एसएसपी ने बताया कि मोस्टवांटेड बलराज भाटी कई राज्यों से वांटेड चल रहा था। इसके ऊपर ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित था। एसएसपी एसटीएफ ने बताया किपिछले कई दिनों से कुख्यात बदमाश की तलाश में एसटीएफ घूम रही थी। नोएडा के सेक्टर 50 में बलराज के अपने साथियों के साथ होने की सूचना मिली। बदमाश किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के फिराक में घूम रहे थे। सूचना मिलते ही एसटीएफ अलर्ट हो गई और इलाके में घेराबंदी कर दी।

जैसे ही एसटीएफ ने उन्हें घेरा तो बदमाशों ने एसटीएफ पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। असलहे से लैस बदमाशों ने एसटीएफ की टीम पर ताबड़तोड़ करीब 60 राउंड फायरिंग की। दोनों तरफ से तकरीबन एक घंटे तक फायरिंग होती रही। इस दौरान गोली लगने से बलराज घायल होकर गिर गया। उसे अस्पताल ले जाया गया यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषत कर दिया। इस मुठभेड़ में बलराज के दो साथी भागने में सफल रहे।

बुलंदशहर का निवासी था बलराज

गौरतलब 10 फरवरी वर्ष 2015 को बदरौला गांव निवासी जितेंद्र और घरोड़ा गांव निवासी कल्लू उर्फ श्यौराज की घरोड़ा गांव में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उसके बाद तीन बदमाश रायपुर कलां गांव निवासी सतपाल को मोटरसाइकिल को लूटकर फरार हो गए थे। अपराध जांच शाखा को जांच के दौरान पता चला था कि इस हत्याकांड में यूपी के बुलंदशहर का धूसरी गांव निवासी बलराज भाटी मुख्य शूटर था। इस मामले में बाकी आरोपी गिरफ्तार हो गए थे। घटना के बाद पुलिस ने आरोपी पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया था। लेकिन अब तक वह पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सका था। बलरराज के पिता का नाम गजराज भाटी है और वह बुलंदशहर के शिकारपुर थाना क्षेत्र के शिवनगर का रहने वाला है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.