अधिग्रहण से प्रभावित किसानों की आबादी होगी विस्थापित ग्रेटर न¨एडा ;सतेन्द्र सिंह

0 163

डेडिकेटेड फ्रेट काॅरिडोर में जिन किसानो की आबादी का अधिग्रहण किया गया, उन्हें विस्थापित किया जाएगा। एसडीएम सदर ने ऐसे किसानों की सूची तैयार करके फाइल आगे बढ़ा दी है। इन किसानों को दूसरे स्थान पर शिफट किया जाएगा और किसानों के मकान की लागत और जमीन उपलब्ध कराई जाएगी।
गौरतलब है कि डेडिकेटेड फ्रेट काॅरिडोर के लिए जिले में 17 गांवों की जमीन का अधिग्रहण किया जा रहा है। इसमे कुछ गांवों का अधिग्रहण ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण द्वारा किया जा रहा है, जिसका मुआवजा वितरण की जिम्मेदारी प्राधिकरण के पास है। हालांकि डीएफसी द्वारा मुआवजा राशि का भुगतान किया जाता है। वहीं, कुछ गांवों में प्रशासन द्वारा जमीन का अधिग्रहण किया जा रहा है। जमीन अधिग्रहण कर डीएफसी को कब्जा देने की जिम्मेदारी एसडीएम सदर को सौंपी गई है। प्रशासन द्वारा अजायबपुर सहित कुछ गांवों में किसानों की जमीन का भी अधिग्रहण कर रहा है। जिससे इन किसानों की चिंता बढ़ गई थी। किसानों ने दो दिन पहले जिलाधिकारी से आबादी को शिफट करने की मांग की थी। जिसके बाद प्रशासन ने गंभीरता दिखाते हुए ऐसे किसानों की सूची तैयार करनी शुरू कर दी है। एसडीएम बच्चू सिंह ने बताया कि ऐसे किसानों को दूसरे स्थान पर शिफट किया जाएगा। किसानों को जमीन और मकान में हुए खर्च की लागत को दिया जाएगा, ताकि वह दूसरे स्थान पर अपना मकान बनाकर रह सकें। उन्होंने बताया कि इसकी फाइल चल पड़ी है और बहुत जल्द किसानों को दूसरे स्थान पर शिफ्रट कर दिया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.