देश में 34 ट्रांसपोर्ट संगठनों की हड़ताल, ग्रेटर नोएडा में यात्री हुए बेहाल

ABHISHEK SHARMA / Photo & Video by -: BAIDYANATH HALDER

0 89
Greater Noida : नया मोटर व्हीकल एक्ट लगते ही आम लोगों से लेकर ट्रांसपोर्टर्स भी भारी-भरकम चालान से परेशान हैं। इसके खिलाफ अब ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने हड़ताल का ऐलान करते हुए मोर्चा खोल दिया है। आज सुबह से ही सड़कों पर इसका असर देखने को मिल रहा है।
ग्रेटर नोएडा में ओला, ऊबर समेत ऑटो चालकों ने भी अपनी सेवाएं बंद कर दी है। जिसके चलते राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। हड़ताल के कारण सड़कों पर चलते कमर्शियल वाहनों को भी रोका जा रहा है। इस कारण स्‍कूलों में अवकाश घोषित कर दिया गया है।



हालांकि, दोपहर 12 बजे के करीब ग्रेटर नोएडा के परीचौक पर अधिकांश सार्वजनिक वाहन एवं ओला, ऊबर  गाड़ियां, बसें सड़क पर चलती दिखाई दी। उसके बाद यात्रा को लेकर लोगों की परेशानी भी कुछ कम हुई है।

ट्रक, टैक्सी, बस सहत 34 संगठनों ने दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में हड़ताल की घोषणा की है। उन्होंने निजी वाहनों के मालिकों, वैन और ऑटो रिक्शा ड्राइवरों से भी हड़ताल को समर्थन की अपील की है। इस हड़ताल के कारण आम लोगों पर काफी प्रभाव पड़  रहा है। हड़ताल को देखते हुए गाजियाबाद, नोएडा सहित यूपी के कई जिलों के स्कूलों को छुट्टी की घोषणा करनी पड़ी है।
ट्रैफिक जुर्माना बढ़ाए जाने के खिलाफ हड़ताल ग्रेटर नोएडा , नोएडा और गाजियाबाद ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने भी ट्रैफिक जुर्माना बढ़ाए जाने के खिलाफ हड़ताल में शामिल होने का ऐलान किया है। दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में ट्रकों, बसों और अन्य कमर्शियल वाहनों के मालिक पहले से ही नए मोटर व्हीकल एक्ट का विरोध कर रहे हैं।
आपको बता दें कि एक सितंबर से नए मोटर व्हीकल एक्ट को लागू किया गया है। नए नियमों के उल्लंघन पर पहले के मुकाबले कई गुना जुर्माने का प्रावधान किया गया है। नया कानून लागू होने के बाद से देशभर से तगड़े ट्रैफिक जुर्माने की खबरें लगातार आ रही हैं। यही नहीं नए एक्ट के दुरुपयोग के भी कई मामले सामने आए हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.