फिल्म डायरेक्टर विवेक शर्मा ने साझा की अपनी बॉलीवुड यात्रा, टेन न्यूज की खास पेशकश

Rohit Sharma

0 108

नई दिल्ली :– सहायक निर्देशक के रूप में अपना करियर शुरू करने वाले विवेक शर्मा ने सिनेमा जगत में बहुत संघर्ष किया है , जिसके बाद आज वो बड़े निर्देशक बन चुके है। उस महान हस्ती ने टेन न्यूज़ नेटवर्क के कार्यक्रम “ए विनीत चौधरी शो” में हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम का संचालन सदी के महानायक अभिनेता अमिताभ बच्चन के सबसे बड़े फैन विनीत चौधरी ने किया। जिसमे निर्देशक विवेक शर्मा ने अपने जीवन के अहम किस्से साझा किए।

आपको बता दे कि निर्देशक विवेक शर्मा ने महेश भट्ट के साथ सहायक निर्देशक के रूप में अपना करियर शुरू किया। वह द्विभाषी फिल्म “क्रिमिनल” के साथ मुख्य सहायक निर्देशक बने और फिर डुप्लीकेट, अंगारे और फिर भी दिल है हिंदुस्तानी जैसी फिल्मों के लिए एसोसिएट डायरेक्टर के तौर पर काम किया।

उन्होंने “कुछ कुछ होता है” के लिए पोस्ट प्रोडक्शन भी डिजाइन किया और शाहरुख खान को अपनी कंपनी ड्रीमज अनलिमिटेड विकसित करने में मदद की। विवेक शर्मा ने स्वतंत्र निर्देशक बनने से पहले 25 से अधिक फिल्मों में काम किया है।

फिल्म भूतनाथ उनका पहला निर्देशन उद्यम था, जहां उन्होंने न केवल पटकथा लिखी थी, बल्कि अमिताभ बच्चन और जूही चावला को भी निर्देशित किया था। अब उनका अपना प्रोडक्शन हाउस है जिसका नाम “Filmzone Creations LLP” और एक म्यूजिक कंपनी है।

निर्देशक विवेक शर्मा ने कहा, फिल्म जगत में उन्होंने बहुत संघर्ष किया है। अगर कोई चीफ डायरेक्टर नया आता है, तो सहायक निर्देशक को निकाल दिया जाता था। जिसके कारण मुझे भी इस परेशानी का सामना करना पड़ा। काम न मिलने पर सड़कों पर रहना पड़ता था। मेरी लिखी हुई कहानी जब पसंद आती थी तो उसका पैसा भी नहीं मिलता था। जिसके कारण चाय और बिस्कुट में ही गुजारा करना पड़ता था। उन्होंने बताया कि ये संघर्ष करीब 4 साल तक चला, लेकिन मैंने हिम्मत नहीं हारी। आज उसी संघर्ष की वजह से मैं फिल्म जगत में निर्देशक हूँ। आज के समय में बहुत सी फिल्म बनाने का काम चल रहा है।

विवेक शर्मा ने कहा कि फिल्म जगत में अभिनेता अमिताभ बच्चन बहुत ही ज्यादा मंझे हुए कलाकार है , जिन्होंने एक से बढ़कर फिल्मों में अपना किरदार निभाया , साथ ही उनकी फिल्मे जबरदस्त हिट जाती है। उन्होंने कहा कि मेरी फिल्म भूतनाथ जबरदस्त हिट हुई। जिसके बाद मेरी बहुत सी फिल्मों में चार चाँद लगे। उन्होंने कहा कि फिल्म “दीवार” 75 बार देखी है , लेकिन मन नहीं भरता था। फिल्म बंदिनी, प्यासा, साहेब बीवी और गुलाम काफी ज्यादा बढ़िया रही है, जो मुझे आज भी पसंद है।

उन्होंने कहा, आमिर खान काफी ज्यादा बोरिंग एक्टर रहे है। एक सीन को 10 बार करते है, लेकिन एक बात जरूर है कि वो काफी ज्यादा सक्रिय है। बेहतर सीन क्रिएट करने के लिए ये सब करते थे, जिससे दर्शकों को खूब पसंद आए। फिल्म को लेकर आमिर खान बहुत सवाल करते है। फिल्म बनाने में कन्फुजन क्रिएट करते थे, लेकिन उनके सवालों से बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है।

विलन को लेकर उन्होंने कहा कि फिल्म शोले के गब्बर उन्हें ज्यादा पसंद है। फिल्म शोले काफी ज्यादा बढ़िया है , आज भी इस फिल्म को देखकर ऐसा नहीं लगता की आप बोर हो रहे है। साथ ही उन्होंने कहा कि फिल्म ब्लैक में किरदार निभाना काफी ज्यादा कठिन था, इस फिल्म से नए अभिनेता और अभिनेत्री को सीख लेनी चाहिए।

विवेक शर्मा ने कहा कि नीरज पांडेय बहुत ही बढ़िया निर्देशक है , जिन्होंने कई जबरदस्त फिल्म बनाई हैं। खासकर एक फिल्म है उनकी “ए वेडनेसडे” जो काफी ज्यादा अच्छी है। वहीं दूसरी तरफ निर्देशक विजय आनंद ने “तेरे मेरे सपने, गाइड, तीसरी मंजिल समेत अन्य फिल्मे बनाई, जो आज भी लोगों के दिमाग में बैठ गई है।

निर्देशक विवेक शर्मा ने कहा कि उन्हें बचपन से कहानी लिखने का शौक था। मैं अपने इमोशन लिखता रहता था, जिसके कारण आज में लेखक बन सका हुँ। वहीं मेरे द्वारा लिखी गई कहानियों पर फिल्म बनी है। साथ ही उन्होंने कहा कि एक साल पहले मेरी शायरी की बुक लांच हुई है, जो अमिताभ बच्चन ने की है।

विवेक शर्मा ने कहा कि फिल्म बनाना एक पेशन हो चाहिए , न की कैरियर। बहुत से निर्देशक अपनी फिल्मों का नाम अजीब सा रखते है, जिसमे अश्लीलता दिखाई देती है। कुछ निर्देशक है, जो फिल्म जगत को बदलने की कोशिश कर रहे है , फिल्मों में अश्लीलता दिखाई जा रही है, जो बिलकुल गलत है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.