लखनऊ के बाद अब ग्रेटर नोएडा के जिम्स में प्लाज्मा से कोरोना मरीजों के इलाज की अनुमति

Abhishek Sharma

0 243

ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) में कोरोना संक्रमित गंभीर मरीजों का प्लाज्मा थेरेपी से उपचार शुरू हो गया है। इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) से पहले चरण में दो मरीजों के इलाज हेतु प्लाज्मा थेरेपी के लिए रिपोर्ट दी गई थी।

आईसीएमआर में रिपोर्ट देने के बाद सोमवार से दोनों मरीजों के उपचार की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जिम्स में कोरोना संक्रमित 28 मरीज भर्ती हैं। इनमें से एक 60 वर्षीय वृद्धा और 40 वर्षीय व्यक्ति की हालत गंभीर है। डॉक्टरों ने दोनों की जानकारी आईसीएमआर को देकर प्लाज्मा थेरेपी के उपयोग की इजाजत मांगी।

सोमवार को आईसीएमआर से इजाजत मिलने के बाद दोनों का प्लाज्मा थेरेपी से उपचार शुरू कर दिया गया है। बता दें कि देश और विदेश में प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना संक्रमित गंभीर मरीजों के उपचार के प्रयास किए जा रहे हैं।

प्रदेश में लखनऊ के बाद जिम्स में प्लाज्मा थेरेपी से उपचार के लिए आईसीएमआर से इजाजत मिल चुकी है। इसके बाद कोरोना से ठीक हुए मरीजों से प्लाज्मा दान करने के लिए कहा गया था।

सोमवार तक कोरोना से ठीक हुए चार लोग प्लाज्मा दान कर चुके हैं। प्रत्येक रक्त समूह के मरीजों का प्लाज्मा लेकर स्टोर करने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे भविष्य में जरूरत पड़ने पर गंभीर मरीज को प्लाज्मा थेरेपी का उपयोग कर ठीक किया जा सके। इसे इंजेक्शन के रूप में कोरोना संक्रमित को दिया जाना है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.