ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने वाणिज्यिक भूखंडों की स्कीम निकाली, पैट्रौल, सीएनजी पंप के भूखंड भी शामिल

ABHISHEK SHARMA

0 70

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने व्यवसायिक भूखंडों की योजना निकाली है। भूखंडों का नीलामी के आधार पर आवंटन होगा। नीलामी में सफल आवेदक को भूखंड की कुल कीमत का 30 फ़ीसदी एकमुश्त व शेष राशि 8 किस्तों में भुगतान करनी होगी। आवंटी को 30 दिन में भूखंड पर कब्जा मिल जाएगा।

ग्रेटर नोएडा में निवेश करने के इच्छुक बिल्डर्स डेवलपर्स एवं निवेशकों के लिए प्राधिकरण ने वाणिज्यिक भूखंडों की योजना निकाली है। प्राधिकरण द्वारा निकाली गई योजना में वाणिज्यिक भूखंडों का आवंटन ई-ऑक्शन के माध्यम से रखा जाएगा। प्राधिकरण ने फ्लोर एरिया रेशो के भूखंडों की श्रेणी में प्राप्त भूखंड ऑनलाइन ऑक्शन के माध्यम से आवंटित किए जाएंगे जिसका आरक्षित मूल्य 46190 प्रति वर्ग मीटर है। यह भूखंड सेक्टर 36, गामा टू, ईटा 1, नॉलेज पार्क 2 में आवंटित किए जाएंगे।

वहीं दूसरी श्रेणी में भूखंडों की श्रेणी में 5 भूखंडों का आवंटन ऑनलाइन ऑक्शन के माध्यम से किया जाएगा। जिस का आरक्षित मूल्य है ₹66000 प्रति वर्ग मीटर है। यह भूखंड सेक्टर इकोटेक 12, सेक्टर 10 एवं डेल्टा वन एवं अल्फा-2 में आवंटित किए जाएंगे।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा अपने आवंटियों को सुविधा दिए जाने के उद्देश्य से यह व्यवस्था की गई है कि इस योजना के अंतर्गत आवंटित किए जाने वाले सभी वाणिज्यिक भूखंड किसी भी प्रकार की बाधा से पूर्ण रूप से मुक्त हैं एवं सभी भूखंडों का कब्जा प्राधिकरण के पास है।

प्राधिकरण द्वारा सभी भूखंडों के लिए प्लान भी तैयार कर लिए गए हैं। आवंटन के 30 दिनों के बाद आवंटित भूखंड का कब्जा आवंटी को दे दिया जाएगा। इस योजना में ऑनलाइन आवंटन के समय आवंटित की गई ऑक्शन के आधार पर कुल धनराशि का 30% धनराशि जमा करानी होगी।

30% धनराशि जमा कराए जाने के बाद आवंटी अपने भूखंड की लीज डीड निष्पादित कराते हुए आवंटित भूखंड पर विकास कार्य आरंभ कर सकता है। शेष 70% धनराशि का भुगतान 4 वर्षों में कुल 8 छमाही किस्तों में निर्धारित ब्याज सहित कर सकता है। इसके अलावा प्राधिकरण ने पेट्रोल-डीजल, सीएनजी, इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन के भूखंड भी आवंटित किए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.