ग्रेटर नोएडा में अकेले रह रहे बुजुर्ग ने की आत्महत्या, 15 दिन बाद मिला शव

Abhishek Sharma

149

Greater Noida (03/01/19ग्रेटर नोएडा के एनएसजी सोसायटी में परिवार से अलग रह रहे बुजुर्ग का शव बुधवार सुबह संग्धित हालत में पंखे से लटका मिला। आशंका है कि शव 15 दिन से भी अधिक पुराना है। घर में बदबू फैलने व 15 दिन से बुजुर्ग के दिखाई नहीं देने पर आसपास के लोगों ने पूछताछ की तो इसका खुलासा हुआ। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पुलिस को एक लिफाफे पर सुसाइड नोट भी मिला है।

महाराष्ट्र के नासिक निवासी नारायण कुमार शिंदे (67) फरीदाबाद स्थित कैस्ट्रॉल कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर पद से सेवानिवृत्त थे। उनकी पत्नी माधुरी शिंदे भारत सरकार के नीति आयोग से सेवानिवृत्त अधिकारी हैं और नोएडा के सेक्टर-34 में रहती हैं। दोनों के बीच लंबे समय से विवाद चल रहा था। ऐसे में नारायण कुमार परिवार से अलग ग्रेटर नोएडा की एनएसजी सोसायटी के मकान नंबर ए-37 में किराए पर रह रहे थे।



बुधवार सुबह पड़ोसियों को नारायण के मकान से बदबू आने का आभास हुआ। लोगों ने दरवाजा खटखटाया तो नहीं खुला। किसी ने घर के पीछे की खिड़की से देखा कि नारायण का शव रस्सी के फंदे से लटका दिखा। पड़ोसियों ने सूचना कासना कोतवाली पुलिस को दी। पुलिस ने घर की खिड़की का शीशा तोड़कर दरवाजा खोला। शव गली-सड़ी हालत में था। पड़ोसियों ने बताया कि लगभग 15 दिन से किसी ने बुजुर्ग को आते-जाते नहीं देखा था।

पुलिस को मौके से बुजुर्ग का मोबाइल और एक लिफाफे पर लिखा दो लाइन का सुसाइड नोट मिला है। इस पर अंग्रेजी में लिखा है कि वह अपनी जिंदगी स्वयं समाप्त कर रहे हैं। इसी के साथ उन्होंने अपने परिवार से संपर्क के लिए एक नंबर भी लिखा था। पुलिस ने नारायण के परिवार को घटना की सूचना दे दी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.