जीवनभर की कमाई से खरीदे हुए फ्लैट का 9 साल से नहीं मिला कब्ज़ा, बायर्स का सुपरटेक पर प्रदर्शन

Talib Khan / Rahul Kumar Jha

145

Noida, (25/5/2019): बीते 10 वर्षों से आशियाने के लिए तरस रहे लोगों को प्रदेश में योगी सरकार के आने के बाद उम्मीद जगी थी कि उन्हें उनके सपनों का घर नसीब हो जाएगा, लेकिन वह सपना अब तक हकीकत नहीं बन पाया। आज, अपनी जीवनभर की कमाई से घर खरीदने वालों ने सेक्टर-58 स्थित सुपरटेक के दफ्तर पर प्रदर्शन किया और धरना दिया। बायर्स ने कहा कि उनका आंदोलन आगे भी जारी रहेगा और अब वे अपने बच्चों के साथ सुपरटेक दफ्तर पर धरना देंगे।


सुपरटेक के दफ्तर पर प्रदर्शन कर रहे ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित सुपरटेक ईको विलेज-1 में अपने घर का सपना देखने वाले लोगों ने बताया कि “साल 2010 में उन्होंने फ्लैट बुक किया था। तब सुपरटेक ने उन्हें वर्ष-2013 में कब्जा देने का वादा किया था। अब साल 2019 भी आधा बीतने को है, लेकिन अब तक निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ है। जबकि उन्होंने 95 से 100 फीसदी तक भुगतान कर दिया है”। बायर्स का आरोप है कि बीते चार वर्षों से सिर्फ मीटिंग हो रही है। हर महीने मीटिंग होती है। उसमें उन्हें झूठे आश्वासन दे दिए जाते हैं।

सुपरटेक ईको विलेज-1 के बायर्स का कहना है कि इस प्रोजेक्ट के 58 टावरों में कुल 8000 हजार फ्लैट्स बनने हैं। इनमें अभी लगभग 20 टावर में काम ही नहीं हुआ है। कुछ अधूरे पड़े हैं। जीवनभर की पूंजी जमा करने के बाद भी वे किराये पर रहे हैं और बीते 09 साल से धक्के खा रहे हैं।

बैंक के लोन की किश्त, मकान का किराया, बच्चों के स्कूल की फीस आदि के खर्च से वे बेहद परेशान हैं। उनकी आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि वे इन खर्चों को उठा सकें। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि सुपरटेक का एमडी आरके अरोड़ा झूठा है और वर्षों से झूठे आश्वासन दे रहा है। उन्होंने सुपरटेक पर बायर्स को डराने के लिए पुलिस की मदद लेने का भी आरोप लगाया। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने कहा कि वे अब सुपरटेक के दफ्तर से नहीं जाएंगे। यहीं रहेंगे। इतना ही नहीं, अब वे अपने बच्चों को भी साथ लेकर धरना देंगे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.