गौतमबुद्धनगर के जनप्रतिनिधि, अधिकारियों व सामाजिक संस्थाओं ने टेन न्यूज के माध्यम से दिया स्वतंत्रता दिवस का संदेश

ABHISHEK SHARMA

0 287

नोएडा :– पूरे देश के साथ ही साथ गौतमबुद्घनगर जिले में भी 74वां स्वतंत्रता दिवस पूर्ण सादगी तथा उल्लास के साथ मनाया गया। कोरोनावायरस के बीच मना हमारा यह राष्ट्रीय पर्व इस वर्ष बिल्कुल बदला-बदला सा था। अधिकतर स्थानों पर बिना भीड़भाड़ के राष्ट्रीय ध्वज को फहराया गया।

आपको बता दे कि स्वतंत्रता दिवस पर टेन न्यूज़ नेटवर्क के माध्यम से आज गौतमबुद्ध नगर के जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों व सामाजिक संस्थाओं ने जनता को संदेश दिया। वही इस संदेश कार्यक्रम में लोगों को आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए जागरूक भी किया गया।

इस कार्यक्रम का संचालन बहुत ही शानदार तरीके से नोएडा के जाने-माने समाजसेवी डॉक्टर अतुल चौधरी एवं उनकी सहयोगी डौली कुमारी ने किया।

– डाॅ. महेश शर्मा, सांसद, गौतम बुद्ध नगर

सांसद डॉ महेश शर्मा ने सभी क्षेत्र वासियों को 74 वें स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि 74 वां स्वतंत्रता दिवस बेहद खास है, यह प्लैटिनम जुबली से 1 वर्ष पहले मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश की 130 करोड़ जनता हमारी ताकत है और जो सोच हमारे संतो और महापुरुषों ने बनाई थी कि आने वाला समय भारत का है, आने वाली सदी हमारी है और यह भारत विश्व गुरु बन कर विश्व का मार्गदर्शन करेगा। हम उस परिकल्पना की ओर अग्रसर हो चुके हैं। जिस तरह रामराज की कल्पना संतो और महापुरुषों ने की थी अब वह बेहद करीब नजर आ रहा है। आज हमारे राष्ट्रपुरुष 130 करोड़ देशवासियों के सेनानी के रूप में एक नेता के रूप में जो मार्गदर्शन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से दिया है, उन्होंने अपने वक्तव्य से देश में जोश भरा है, मेरे 130 करोड़ देशवासी कुछ भी कर सकते हैं और इन्होंने यह करके दिखाया है, इतिहास इसका गवाह है। अब से 4 महीने पहले जब कोरोना महामारी भारत में आई थी , तो यहां इसके लिए एक भी लैब नहीं थी। मात्र 4 महीने के भीतर देश के अंदर 1400 लैब स्थापित करा दी गई हैं और इस कदम के साथ मानव हमने इस महामारी पर जीत दर्ज कर ली है। विश्व का सबसे बड़ा बाजार बनने की ओर जो देश अग्रसर है, वह हमारा प्यारा भारत है। जल्द ही भारत स्वावलंबी बनेगा। जिन प्रवासी भारतीयों के कारण हमारे उद्योग विश्व जगत में अपनी पहचान बना चुके हैं, उनका योगदान असफल नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि आइए सब एकजुट होकर प्रण लेते हैं कि अपने जनपद गौतम बुध नगर उत्तर प्रदेश और देश को नई ऊंचाइयों तक लेकर जाएंगे। उन्होंने महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए कहा कि देश के प्रधानमंत्री आज महिलाओं को पुरुषों के बराबर ही नहीं बल्कि एक कदम आगे खड़ा करने की बात कर रहे हैं। इसी क्रम में तीन तलाक को खत्म कर दिया गया है और आगे महिलाओं को और सशक्त बनाने के लिए निरंतर प्रयास किए जाएंगे।

वही डॉक्टर महेश शर्मा की धर्मपत्नी डॉ उमा शर्मा ने महिलाओं की सुरक्षा पर बोलते हुए कहा कि आज देश के प्रधानमंत्री ने भी लाल किले की प्राचीर से यह संदेश दिया है कि जिस देश के विकास में महिलाओं की भागीदारी ने हो वह देश आगे नहीं बढ़ सकता। सबसे पहले महिलाओं की शिक्षा और उसके बाद सुरक्षा उनको मिलनी ही चाहिए, तभी देश का विकास पूरी तरह से हो सकेगा। उन्होंने कोरोना काल में महिलाओं की जिम्मेदारी और बोलते हुए कहा कि महिलाएं घर की धुरी होती हैं। पूरे परिवार को संभालने का जिम्मा महिलाओं के कंधे पर होता है। वह अपने परिवार को बचाने के लिए किसी भी हद तक चली जाती हैं। महिलाओं का सम्मान होना चाहिए, महिलाओं को बराबर के अधिकार मिलने चाहिए। महिलाओं को सशक्त और सुरक्षित बनाने का प्रयास भारत सरकार कर रही है।

– धीरेंद्र सिंह, विधायक, जेवर विधानसभा

विधायक धीरेंद्र सिंह ने स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि कोरोना महामारी का दौर चल रहा है। ऐसे में सभी लोगों को इससे बचना होगा। लोगों को अपना बचाव स्वयं करना होगा। बाकी सरकार अपनी तरफ से हर संभव कोशिश कर रही है। किसी भी व्यक्ति को अगर कोई समस्या है तो एक जनप्रतिनिधि के नाते मैं उसका हल निकालने की हर संभव कोशिश करूंगा। लोग बेझिझक मेरे पास आए और अपनी समस्याएं रखें, ताकि उनका हल कराया जा सके। हमें अपने शहर को स्वच्छ रखना होगा और खुद को व देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वदेशी वस्तुओं का इस्तेमाल करना होगा।

नरेंद्र भूषण, सीईओ, ग्रेटर नोएडा

– स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सबसे पहले देशवासियों को, हमारे जिले के सभी नागरिकों को, ग्रेटर नोएडा शहर के सभी निवासियों को बधाई देता हूं। यह दिन है कि जब हम अपने शहीदों को नमन करते हैं, उनको श्रद्धांजलि देते हैं। उन्होंने जिस प्रकार के कष्ट हमारे लिए सहे, देश के लिए बलिदान दिया। उसके कारण हम आजाद देश के आजाद नागरिक के तौर पर इस आजादी को एंजॉय कर रहे हैं। देश की आजादी की खातिर अपने प्राणों की आहुति देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों ने विकसित भारत का एक सपना देखा था, उसको पूरा करने का उत्तरदायित्व हमारा है। आज कोरोना महामारी के दौर में हमें एक बार फिर एक और आजादी की जरूरत है। अनदेखी कोविड नामक महामारी ने हमला किया है और भारत ने बड़ी सूझबूझ के साथ इस बीमारी को हैंडल किया है और विकसित देशों से बेहतर नियंत्रित किया गया है। ऐसे में हर नागरिक को इस आजादी में सहयोग देने की आवश्यकता है। सभी नागरिक मास्क पहने घर पर रहे सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखें और यदि बाहर जाना पड़े तो हर समय मास्क पहने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें। यह ऐसा दिवस है, जब इस महामारी के कारण पूरे भारतवर्ष के विकास को धक्का पहुंचा है। जो नागरिक आर्थिक रूप से संपन्न हैं, उनका भी दायित्व बनता है कि जो दिहाडी मजदूर महामारी के कारण अपनी आजीविका चलाने के लिए जूझ रहे हैं, ऐसे लोगों के लिए रोजगार के अवसर प्रदान करें।

अगर बात करें गौतम बुद्ध नगर की तो कोरोना वायरस नियंत्रण करने के मामले में यह जिला काफी आगे है। यहां कोविड के मरीजों की संख्या अधिक है, क्योंकि यह जिला दिल्ली से जुड़ा हुआ है। यहां पर लोग विदेशों की यात्रा करते हैं और यह जिला विकास के मामले में बहुत आगे है। इसके चलते यहां कोरोना वायरस ने भी दस्तक दी। कोरोना वायरस के कारण मौत की दर पूरे प्रदेश में गौतम बुद्ध नगर में सबसे कम है। गौतम बुद्ध नगर जिले का विकास के मामले में, आपदा को नियंत्रण करने के मामले में या किसी भी समस्या को नियंत्रित करने के लिए उदाहरण दिया जाता है। उन्होंने कहा कि जिले का नोडल अधिकारी और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का सीईओ होने के नाते मैं आश्वस्त करता हूं कि प्राधिकरण का हर कर्मचारी हर अधिकारी कोरोना से मुक्ति दिलाने में अपना हर संभव योगदान देगा।

– अधिवक्ता रंजन तोमर, अध्यक्ष, नोएडा विलेज रेजिडेंट एसोसिएशन

उन्होंने 74वें स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी और नई शिक्षा नीति 2020 पर पूछे गये प्रश्न का जवाब देते हुए कहा कि आज की हमारी पीढ़ी हमारे बुजुर्गों से सीख ले रही है और अपने देश की संस्कृति को आगे बढ़ा रही है। आज हम इसलिए पिछड़ते जा रहे हैं, क्योंकि हमारे देश में अनुसंधान एवं विकास की ओर ध्यान नहीं दिया गया। अब से पहले की शिक्षा नीति पराधीनता के आधार पर बनाई गई और आज तक उसे कहीं ना कहीं पूर्णकालिक रूप से बदला नहीं गया है। अब नई शिक्षा नीति 2020 में अनुसंधान और विकास पर जोर दिया गया है। मेरा मानना है कि अब से पहले इस पर ध्यान देना चाहिए था। उन्होंने आगे कहा कि नोएडा प्राधिकरण की बोर्ड मीटिंग होती है, उसमें केवल अधिकारी हिस्सा लेते हैं। ना उसमें जिले, शहर के जनप्रतिनिधि शामिल होते हैं और ना ही शहर के गणमान्य नागरिक जबकि प्राधिकरण कोई भी व्यवस्था नागरिकों के लिए लागू करती है। ऐसे में जनप्रतिनिधियों का इस बैठक में होना बेहद जरूरी है।

– साधना सिन्हा, अध्यक्ष, महिला शक्ति सामाजिक समिति

उन्होंने स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए कहा कि आज देश को आजाद हुए 74 वर्ष हो गए हैं और आज भी हम सरकार या जनप्रतिनिधियों से कुछ ना कुछ मांग रहे हैं। अब तक हमारी स्थिति आत्मनिर्भर होनी चाहिए थी। 74 सालों में महिलाओं के लिए कुछ खास नहीं किया गया। हालांकि अब जो सरकार है, यह काफी पॉजिटिव है, काफी बदलाव आ रहे हैं, स्थिति में सुधार हो रहा है। वर्तमान सरकार ने बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ अभियान चलाया है। लेकिन इसमें भी कहीं ना कहीं चर्चा ही होती है, धरातल पर बहुत कम देखने को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के लिए स्वरोजगार की योजना चलाई जाए, जिससे महिला सशक्त और आत्मनिर्भर बन सकें और यह योजना धरातल पर हो केवल पेपर पर ही नहीं। यह योजना हर घर तक पहुंचनी चाहिए और इससे हर महिला ग्रहणी लाभान्वित हो सके। किसी भी योजना को धरातल पर लाने के लिए सरकार को एनजीओ का साथ लेना चाहिए। थोड़ी सी और जिम्मेदारी के साथ महिलाओं के लिए कार्य किया जाए। उन्होंने कहा कि कोई भी बड़ी योजना बनाई जाती है तो उस में महिलाओं का प्रतिनिधित्व जरूर होना चाहिए, क्योंकि महिला एक बेहतर प्रशासक बन सकती है। महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए उनको सुरक्षा प्रदान की जानी चाहिए। आज के समय में देखें तो महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था बेहद लचर हो रखी है। प्रतिदिन देखने को मिलता है कि महिलाओं के साथ कहीं कोई घटना और दुर्घटना घट जाती है आज के समय में पूरी व्यवस्था को बदलने की जरूरत है, महिलाओं को अधिकार दिए जाने चाहिए और महिलाओं को विशेष कर आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार की ओर से कोई ना कोई कदम जरूर उठाया जाना चाहिए।

– के.के जैन, महासचिव, फोनरवा

उन्होंने सभी क्षेत्रवासियों को 74 वें स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी और कहा कि नोएडा ने आज देश के साथ-साथ पूरे विश्व में एक अलग पहचान बनाई है। हमारी संस्था शहर के नागरिकों के साथ मिलकर नोएडा को और ऊंचाइयों तक ले जाने का प्रयास कर रहे हैं। हम सब लोगों ने मिलकर नोएडा को साफ सुथरा रखा और नोएडा को स्वच्छता में 3 स्टार रेटिंग प्राप्त हुई। आगे हमारी कोशिश रहेगी कि नोएडा को फाइव स्टार मिले। हमारा प्रयास रहता है कि शहर का एक सामान्य व्यक्ति भी नोएडा के विकास में अपना योगदान दें। उन्होंने कहा कि आज स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हमारी संस्था ने अलग-अलग प्रजातियों के 500 पौधे लोगों को वितरित किए हैं, ताकि वह अपने घर या सेक्टर में लगाएं और हरियाली को बढ़ावा दें। नोएडा में सोलर पार्क बनाने पर कहा कि हम लगातार इसको और आवाज बुलंद कर रहे हैं। अधिकारियों तक अपनी बात पहुंचाई है कि शुरुआती दौर में शहर के चौराहों पर सोलर लाइट लगाई जाए। लेकिन समस्या यह आ रही है कि यह चोरी हो जाती हैं, लेकिन इन सब बातों से घबराकर हम अपना विचार नहीं बदल सकते। शहर में बिजली की भी समस्या है, शहर में काफी जगह है, जहां पर सोलर प्लांट या सोलर पार्क बनाए जा सकते हैं और बिजली की समस्या से निजात मिल जाएगी।

– विपिन मल्हन, अध्यक्ष, नोएडा एंटरप्रेन्योर्स एसोसिएशन

उन्होंने यह सभी क्षेत्रवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी और कहा कि नोएडा का नाम विश्व पटल पर प्रसिद्धि हासिल कर रहा है, लेकिन अभी इसको और चमकाने के लिए हमें एकजुट होकर प्रयास करने होंगे। उन्होंने उद्योग की बात रखते हुए कहा कि सरकार और प्रशासन ने जो नियम लागू किए हैं, वह हम लोगों की सुरक्षा के लिए ही हैं। अपनी फैक्ट्री में श्रमिकों की सामाजिक दूरी रख रहे हैं, तो उसमें हमारा ही फायदा है। कोरोना एक वैश्विक महामारी है, ऐसे में सभी को कुछ ना कुछ परेशानी आ ही रही है। कोरोना के दौरान लगभग 4 लाख मजदूरों ने यहां से पलायन कर लिया। उद्यमियों को फंड की कमी आ रही है, ना ही उनके पास आर्डर आ रहे हैं। उद्यमियों के लिए खुद को और अपने कर्मचारियों को सुरक्षित रखना एक बड़ी चुनौती है। ‘लोकल फाॅर वोकल’ पर उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने पूरे देश से स्वदेशी वस्तुएं अपनाने का आग्रह किया है। ऐसे में लोगों की जिम्मेदारी बनती है कि विदेशी वस्तुओं की बजाय अपने देश में बना हुआ सामान इस्तेमाल करें। तभी हम और हमारा देश आत्मनिर्भर बन सकता है। दूसरे देशों से हमारे देश की निर्भरता खत्म हो जाएगी। देश की युवा पीढ़ी को संदेश देते हुए उन्होंने कहा कि कोई भी कार्य करें तो पूरे जुनून और ईमानदारी के साथ करें। कभी भी शॉर्टकट का रास्ता ना अपनाएं।

– एस. के. जैन, अध्यक्ष, सेक्टर 18 मार्किट एसोसिएशन

उन्होंने कहा कि सबसे पहले मैं सभी लोगों को 74 वें स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं देना चाहता हूं और वर्तमान में कोरोना नामक महामारी से पूरा विश्व में जूझ रहा है। मैं आशा करता हूं कि जल्द ही यह महामारी खत्म होगी और लोग पहले की तरह अपना खुशहाल जीवन व्यतीत कर सकेंगे। जहां तक बात हो रही है आत्मनिर्भर भारत की तो पिछले 10 जून से हमने अभियान चलाया है, जिसमें हमने नारा दिया है ‘भारतीय सामान, हमारा अभिमान’, इसके अंतर्गत हमने चाइना से आने वाले सामान पर रोक लगाई है और लक्ष्य निर्धारित किया है कि चाइना से आने वाला एक लाख करोड़ का सामान बंद हो और इसकी आपूर्ति खुद अपने देश में हो रक्षाबंधन पर चाइना की राखियों पर रोक लगाकर हमने चाइना को एक करारा झटका दिया है और इसका निर्माण खुद भारत में किया गया है। अब राखी से लेकर दिवाली के त्यौहार आएंगे जिसमें हम अपने व्यापारियों से कहकर जरूरत का सामान बाजार में उतारेंगे।

– राजीवा सिंह, अध्यक्ष, नोफा

उन्होंने कहा कि 74 वें स्वतंत्रता दिवस पर मैं लोगों को यह संदेश देना चाहूंगा कि लोग ज्यादा से ज्यादा साइकिल का इस्तेमाल करें। आज के समय में साइकिल ही एक ऐसी चीज है जिससे लोग स्वस्थ रह सकते हैं। यातायात में भी कमी आएगी और हमारा वातावरण प्रदूषित होने से बच सकता है। सभी लोग आपस में मिल-जुलकर रहे। आज भी हम कई सोसाइटी में गए और वहां स्वतंत्रता दिवस मनाया गया। लोगों से मिलना एक व्यक्तित्व में निखार लाता है।

– महेश सक्सेना, महासचिव, नोएडा लोक मंच

उन्होंने सभी लोगों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी और नोएडा के इतिहास पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जब नोएडा का गठन हुआ था तो, नोएडा प्राधिकरण में सबसे पहले सीईओ सुशील त्रिपाठी थे, उन्हें यहां भेजा गया था कि नोएडा प्राधिकरण क्या शहर का विकास कर सकता है। उन्होंने बताया कि नोएडा को बसाने के लिए ₹11 करोड जारी किए गए थे। उस समय के सीईओ सुशील त्रिपाठी ने नोएडा आकर यहां के लोगों से बात की और सेक्टर 37 में फौजियों के लिए एक सोसाइटी बनाई थी। 11 करोड की छोटी सी एक राशि से बना शहर आज हजारों करोड़ का राजस्व सरकार को दे रहा है।

https://www.facebook.com/tennews.in/videos/1218840145146262/

Leave A Reply

Your email address will not be published.