जुए की लत में बना आरोपी, पत्नी को उतारा मौत के घाट, हुआ गिरफ्तार

ROHIT SHARMA / JITENDER PAL

0 152

दिल्ली :– दिल्ली के द्वारका सेक्टर-3 इलाके में पुस्तैनी घर बेचने का विरोध करने वाली पत्नी की जलाकर हत्या कर देने वाले पति को आखिरकार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल 17 मई को पत्नी पर केरोसिन डालकर आग लगा निर्ममता से हत्या के बाद आरोपी किशोर जैन (45) मौके से फरार हो गया था । जिसको लेकर द्वारका नॉर्थ थाना पुलिस की टीम ने मोबाइल ट्रैकिंग के माध्यम से आरोपी को दिल्ली कैंट इलाके से दबोच लिया है।



पुलिस उपायुक्त आंटो अल्फोंस ने बताया कि आरोपी किशोर जैन अपनी पत्नी रचना, 17 व 12 साल की दो बेटी व एक 5 साल के बेटे के साथ एकता अपार्टमेंट, फ्लैट नंबर 338, द्वारका सेक्टर-3 इलाके में रहता था। उसका चावल व चीनी का थोक कारोबार था। पर किशोर को जुए की लत थी और इस लत के कारण न सिर्फ उसका कारोबार ठप हो गया, बल्कि वह आकंठ कर्ज में डूब गया था।

जब कर्जदारों ने रुपयों को लेकर दबाव बनाना शुरू किया तो उसने अपने एक मात्र पुस्तैनी घर को बेचने का निर्णय लिया ,लेकिन उसकी पत्नी रचना ने खुले रूप से इसका विरोध किया। इसे लेकर दोनों में कई बार झगड़ा हुआ। 17 मई को भी दोनों के बीच इसी बात को लेकर झगड़ा हो गया।

झगड़े के दौरान किशोर को इतना गुस्सा आया कि उसने घर में बोतल में रखा केरोसीन रचना पर डालकर अपने सिगरेट लाइटर से आग लगा दी और मौके से फरार हो गया।

इस दौरान घर में मौजूद बड़ी बेटी ने अपनी मां के शरीर में लगी आग को बुझाने की पूरी कोशिश की पर जब तक आग बुझा पाती रचना काफी जल गई थी। उसी ने अपनी मौसी को इसकी सूचना दी जो कि उनके घर पहुंच रचना को पास के अस्पताल में ले गई। पर स्थिति गंभीर होने के कारण उसे सफदरजंग अस्पताल में रेफर कर दिया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी।

वही मौत के पहले उसने पुलिस को अपना बयान दे दिया था, जिसके आधार पर द्वारका नॉर्थ थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर एसएचओ संजय कुमार, एसआई विरेन्द्र और कांस्टेबल गुमानी व संदीप की टीम ने उसकी जांच शुरू की।

जांच में पता चला कि भागने के दौरान आरोपी अपना मोबाइल घर में ही छोड़ गया था। बाहर जाने पर उसने नया मोबाइल और नंबर लेकर अपने दोस्तों को कॉल किया। वहीं पुलिस टीम तब तक उसके सभी दोस्तों तक पहुंच गई थी, जिससे टीम को उसका नया नंबर मिल गया जिसे सर्विलांस पर लगा दिया।

ट्रैक करने पर उसका लोकेशन अंबाला मिला। पर जब टीम वहां पहुंची तो वह वहां से फरार हो चुका था। इसके बाद से ही उसने वह नंबर भी बंद कर लिया था।

वही आज आरोपी का मोबाइल नंबर दिल्ली कैंट में ट्रैक हुआ, जिसके आधार पर टीम ने छापा मारकर उसे दबोच लिया। पूछताछ में उसने बताया कि आश्रय की तलाश में वह पंजाब और हरियाणा में रहने वाले अपने कई रिश्तेदारों और दोस्तों के पास पहुंचा पर किसी ने उसे आश्रय नहीं दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.